ChhattisgarhCrime

कटघोरा: आपस में भिड़े वनमण्डल के परिसर रक्षक और रेंजर… बिना इजाजत बांस काटने के आरोप में 11 मजदूरों समेत रेंजर को भी बना दिया आरोपी… जमकर हुई जुबानी बहस… देखें Video..

महेंद्र सिंह INN24

कटघोरा वनमण्डल अंतर्गत वनमण्डल के अफसर और कर्मचारी आपस मे भिड़ गए. मामला वनमण्डल के बांकीमोंगरा क्षेत्र के हल्दीबाड़ी में बांसो की कटाई से जुड़ा हुआ है. दिलचस्प बात ये है कि बांकी क्षेत्र मौजूद हल्दीबाड़ी के परिसर रक्षक शेखर सिंह रात्रे ने ही बांस काटने पहुंचे सभी 11 मजदूर और कटघोरा रेंजर मृत्युंजय शर्मा, कटघोरा परिसर रक्षक रामकुमार यादव के खिलाफ विभिन्न आपराधिक धाराओं के तहत कार्रवाई की अनुशंसा की है.

इस बारे में शेखर रात्रे ने बताया की वह कटघोरा वन परिक्षेत्र के बांकी स्थित हल्दीबाड़ी बांस बाड़ी में परिसर रक्षक है. वे दो दिन पहले विभागीय कार्य से बाहर गए हुए थे. वे जब कल लौटे तब पाया कि उनके परिसर में लगे बांसों की कटाई कर दी गई है. जानकारी लेने पर पाया कि कटघोरा परिसर के रक्षक रामकुमार यादव के निर्देश पर घुर्रुमुड़ा गांव के 11 मजदूरों को बुलाकर ढाई सौ रुपये प्रति दिन के हिसाब से करीब साढ़े तीन सौ नग बांसों की कटाई कर दी गई है. पूछे जाने पर रामकुमार यादव किसी तरह के अनुमति का कागज तो प्रस्तुत नही कर पाया हालांकि उसने कटघोरा रेंजर मृत्युंजय शर्मा के आदेश का हवाला दिया.

इस बारे में जब शेखर रात्रे ने वनपरिक्षेत्राधिकारी मृत्युंजय शर्मा से पूछा तो वह भी इस कटाई के सम्बंध में वनमंडलाधिकारी के द्वारा किसी तरह के आदेश का कागज भी प्रस्तुत नही कर पाए. इसके पश्चात अवैध कटाई के आरोप में उन्होंने फौरन पंचनामा तैयार किया और सभी मजदूरों समेत परिसर रक्षक रामुकमार यादव और वनपरिक्षेत्राधिकारी मृत्युन्जय शर्मा को वन्य अधिनियम के तहत आरोपी बना दिया. शेखर रात्रे ने मौके से 11 टंगिये और कटे हुए बांस जब्त किए है.

इस बारे में जब हमने डीएफओ शमां फारूकी से बात करनी चाही तो उनसे संपर्क नही हो पाया. वही अवैध कटाई के आरोपी मृत्युंजय शर्मा ने कवरेज में नही होने का हवाला देकर फोन रख दिया.

Tags
Show More

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
Close