CHHATTISGARH

कुसमुंडा कोल स्टॉक में लगी आग बुझाने का प्रयास नहीं.. पावर प्लांटों में आ रही खराबी.. कन्वेयर बेल्ट में आग लगने की आशंका.

छत्तीसगढ़/कोरबा : SECL कुसमुंडा खदान के कोल स्टॉक में लगी आग बुझाने का प्रयास नहीं किया जा रहा है वही जलायुक्त कोयला पावर प्लांटो में भेजा जा रहा है इससे पावर प्लांटो का बायलर ख़राब हो रही है. बावजूद इसके SECL कुसमुंडा प्रबंधन मनमानी करने पर आमादा है. SECL ने कुसमुंडा खदान से इस वर्ष पच्चास मिलियन टन कोयला उत्पादन करने का टारगेट निर्धारित किया है वही दूसरी ओर उत्पादित कोयले का स्टॉक किया जा रहा है इस स्टॉक में भीषण आग लगी हुई है. INN 24 ने पिछले दिनों इस मामले को उजागर किया था. बावजूद इसके प्रबंधन आग बुझाने में रूचि नहीं ले रही है वही दूसरी ओर कोयला में लगे आग को सीधे पावर प्लांट भेजा जा रहा है इससे हसदेव ताप विद्युत् सयंत्र के कन्वेयर बेल्ट में भीषण आग लगने की आशंका जताई जा रही है हालाकि विद्युत् कंपनी ने पहले ही SECL द्वारा दोयम दर्जे का कोयला आपूर्ति करने का शिकायत किया था इससे पावर प्लांट के बायलर में खराबी आ रही है. SECL ने इस शिकायत को नजर अंदाज कर मनमानी कर रही है.

Tags

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!