National

बिजौलिया : बारिश की कामना को लेकर बच्चियों ने गोबर की मेंढकी को घुमाया घर-घर.

बिजौलियां(जगदीश सोनी)। आज के वैज्ञानिक युग मे भी बारिश की कामना को लेकर इन्द्र भगवान को रिझाने के लिए गांवों में कई प्रकार के टोने-टोटके और रीति-रिवाज का प्रचलन बदस्तूर जारी हैं।उपखण्ड के  लक्ष्मी खेड़ा ग्राम में गुरुवार को नन्ही बच्चियां बारिश की कामना को लेकर ऐसी ही परम्परा का निर्वाह करते हुए गोबर की मेंढकी को बांस की टोकरी में रख कर स्थानीय भाषा मे गीत गाते हुए घर-घर पहुंची।अर्जुन धाकड़ ने बताया कि इस दौरान सभी ग्रामीणों  द्वारा मेंढकी पर पानी डाल कर बच्चियों को राशन सामग्री दी जाती है। इस सामग्री से खाना बना कर भोग लगाया जाता है और सभी बच्चियां एक साथ खाना खाती हैं। मान्यता हैं कि ऐसा करने से जल्दी बारिश होती हैं। टोली में  सीता, निरमा, भावना और लवली समेत कई बच्चियां  मौजूद रही।
Show More

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
Close