Chhattisgarh

नेशनल डॉक्टर डे के अवसर पर इंडस पब्लिक स्कूल दीपका द्वारा कोरबा जिले के विभिन्न डॉक्टर्स को COVID 19 WARRIORS के तौर पर किया गया सम्मानित

ज्ञात हो कि प्रत्येक वर्ष 1 जुलाई को नेशनल डॉक्टर डे के तौर पर मनाया जाता है व आप सभी देख ही रहे हैं पिछले तकरीबन 3 महीने के ऊपर से लॉकडाउन सम्पूर्ण देश में लगा हुआ है इस दौरान डॉक्टर्स नर्स, पुलिस विभाग व सफाई मित्र नें फ्रंट लाइन वारियर्स के तौर पर सभी समाज की सेवा समर्पण भाव से किये, जिनका मनोबल बढ़ाने व कोविद 19 वारियर्स के तौर पर सम्मानित करने के उद्देश्य से आज इंडस पब्लिक स्कूल परिवार द्वारा कोरबा जिले अंतर्गत विभिन्न डॉक्टर्स के क्लिनिक, नर्सिंग होम व हॉस्पिटल में जाकर डॉक्टर्स को पुष्पगुच्छ भेंटकर तिलक लगाकर, मेडल पहनाकर, मोमेंटों भेंट कर कोविद 19 वारियर्स सर्टीफिकेट प्रदान कर कोविद 19 योद्धा के तौर पर सम्मानित किया गया.

इंडस पब्लिक स्कूल के प्राचार्य डॉ संजय गुप्ता से हुई चर्चा में उन्होंने बतलाया कि हम इंडस पब्लिक स्कूल परिवार आज कोरबा जिले अंतर्गत विभिन्न डॉक्टर्स कोविद 19 वारियर्स के तौर पर सम्मानित करने गए हुवे थे हमारे इंडस पब्लिक स्कूल के तरह से शिक्षिका रूमकी हलदार, प्रियंका सिंह, भावी गुप्ता उपस्थित थे साथ ही आई पी एस के बच्चे अक्षत, तमन्ना, रूपल, मुस्कान, पीयूष भी मौजूद थे हम लोगों ने दीपका के डॉ अरविंद महंत से शुरुवात करते हुवे सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र दीपका के डॉ हरि पी. कंवर, डॉ. कमलेश पोर्ट, डॉ आर. आर. पंडा, डॉ. पंडा को डॉक्टर्स डे की बधाइयां, शुभकामनाएं-शुभभवनायें प्रेसित करते हुवे तिलक लगाकर पुष्पगुच्छ भेंट कर सर्टिफिकेट प्रदान कर मेडल व मोमेंटों भेंट कर कोविद 19 वारियर्स के तौर पर सम्मानित किया तत्पश्चात हमारी टीम एन. सी. एच. हॉस्पिटल दीपका पहुंची जहां उपस्थित सभी डॉक्टर्स को डॉक्टर्स डे की बधाइयां देते हुवे, तिलक लगाकर पुष्पगुच्छ भेंट करके सर्टिफिकेट प्रदान कर मोमेंटों भेंटकर मेडल पहनाकर सम्मानित किया गया इस दौरान उपस्थित डॉक्टरों के नाम इस कदर हैं- डॉ ए.के बहरा, डॉक्टर मिसेस सी बोस, डॉ. टी.के. शंकर, डॉ. वी.एम.के. वर्मा, डॉ. एम. प्रसाद डॉ. डी.के. झा, डॉ. आर. एस. अग्रवाल, डॉ. विजय कुमार, डॉ. अशोक सिंह, डॉ. एस.के. चंदेरिया, डॉ. अनुज मोहन, डॉ. अलका उषा रानी, डॉ.संदीप चौहान, डॉ. रामलाल, डॉ. चिगलिपल्ली पवनकुमार, डॉ. बसेनेनी, सुनील चौधरी, डॉ. सुमन धनपत यादव इस तरह एन सी एच हॉस्पिटल गेवरा के सभी डॉक्टरों का सम्मान किया गया इस दौरान कुछ डॉक्टरों ने कविता भी प्रस्तुत की व डॉक्टर संजय गुप्ता द्वारा निभाई जा रही सामाजिक जिम्मेदारी की दिल से सराहना भी की.

तत्पश्चात हमारी आई. पी. एस. की टीम नें कोरबा की ओर रुख किया व वहां पहुंचकर सिटी डेंटक क्लीनिक के डॉक्टर सरफराज खान डॉ. सनाबोर खान, डॉ मुबारक अंसारी, डॉ अशफाक मल्लिक, डॉ आकिब सुभान, डॉ प्रिया पटेल जी को तिलक लगाकर पुष्पगुच्छ भेंटकर मेडल पहनाकर, मोमेंटों व सर्टिफिकेट प्रदान कर डॉक्टर्स डे सेलिब्रेट करते हुवे कोविद 19 वारियर्स के तौर पर नवाजा गया व कोविद 19 त्रासदी के दौरान समर्पण व सेवा भाव से सामाजिक योगदान प्रदान हेतु सहृदय धन्यवाद अदा किया गया तत्पश्चात आगे डॉ. हरीश नायक, डॉ. सुरजीत सिंह, डॉ. रश्मि सिंह, डॉ. देबनाथ, डॉ. आर. के. पांडेय, डॉ. संजय अग्रवाल, डॉ. सरफराज खान, डॉ. ममता अग्रवाल, डॉ. राजीव सिंह, डॉ. अविनाश तिवारी, डॉ. रोहित बंछोर, डॉ. सतदल नाथ, डॉ. ध्रुव बेनर्जी जी को भी प्रत्येक को प्रत्यक्ष रूप से मुलाकात कर तिलक लगाकर पुष्प गुच्छ भेंटकर कोविद 19 वारियर्स का सर्टिफिकेट प्रदान कर मेडल पहनाकर मोमेंटों प्रदान कर सम्मानित किया गया व समाज के प्रति किये गए समर्पण व सेवा भाव से कर्तव्य के प्रति कृतज्ञता व्यक्त की गई.

जहां भी जाते डॉक्टरों को प्रशन्नता होती रहती बड़े ही उत्सुकता के साथ डॉक्टरों के तरफ से भी सकारात्मक रिस्पांस मिलता रहा जो हमारे उत्साह उमंग को बढ़ावा प्रदान करता रहा, कुछ डॉक्टरों नें अपने अल्फाज शायरी कविता के तौर पर भी व्यक्त किये वहीं अनेकों डॉक्टरों ने इस त्रासदी के दौरान उनके दैनिक जीवन के अनुभव सभी बच्चों से सांझा किये आई पी एस के बच्चों को जो डॉक्टरों का सम्मान करने गए हुवे थे उन्हें कई डॉक्टरों ने सराहा की इस तरह की गतिविधि में इन्वॉल्व होने से सामाजिक रिस्पांसिबिलिटी का अहसास होता है ऐसे गतिविधियों से एक तरफ तो जिनका सम्मान किया जा रहा है वह गौरान्वित महसूस करते हुवे दुगनी तेजी से सेवा कार्य करते हैं उनका मनोबल बढ़ता है वहीं उनका मनोबल बढ़ने से सामाजिक योगदान भी तेज गति से उत्साह व उमंग के साथ होता रहता है सभी डॉक्टरों ने इस एक्टिविटी की बड़ी सराहना की वहीं सभी बच्चों को व शिक्षिकाओं को व प्राचार्य डॉ संजय गुप्ता को धन्यवाद अदा किया गया जो दीपका से कोरबा आकर पूरे टीम के साथ सम्पूर्ण उमंग उत्साह के साथ डॉक्टर डे के उपलक्ष्य पर सभी डॉक्टरों का सम्मान करने के लिये, कार्यक्रम की शुरुवात सुबह 9 बजे से दीपका के डॉक्टरों को सम्मानित किए जाने से शुरू हुई व शाम तकरीबन 5 बजे कार्यक्रम विभिन्न डॉक्टरों से प्रत्यक्ष रूप से मुलाकात कर सम्मानित करते हुवे रूबरू होते हुवे सम्पन्न हुआ, डॉक्टरों ने भविष्य में कोविद 19 त्रासदी लॉक डाउन के पश्चात विद्यालय द्वारा आयोजित होने वाली विभिन्न गतिविधियों में सरीख होकर बच्चों से व्यक्तिगत मुलाकात करने की भी बात कही.

इस दौरान उपस्थित शिक्षिकाओं रूमकी हलदार, प्रियंका सिंह, भावी गुप्ता से जब चर्चा की गई तब उनका कहना था कि आज हम दीपका होते कोरबा के विभिन्न डॉक्टरों का डॉक्टर्स डे के अवसर पर सम्मान कर रहे हैं उन्होंने सम्पूर्ण लॉक डाउन के दौरान जो सामाजिक योगदान दिया अपने जान को दांव में लगाकर रिस्क लेकर जो समर्पण व सेवा भाव से सामाजिक योगदान प्रदान किया उसके लिये हम आई.पी.एस. परिवार इस छोटी सी गतिविधि के माध्यम से उनका मनोबल बढ़ाने आएं है हम लगातार इस तरह की गतिविधि कर रहे हैं इसके पहले भी हम जिले के विभिन्न थानों में शिरकत कर पुलिस कर्मियों को कोविद 19 वॉरियर्स के तौर सम्मानित कर उनका भी हौसला अफजाई करते रहे, फिर नर्स व सफाई मित्रों का और आज डॉक्टर डे के अवसर जितने डॉक्टर तक पहुंच पा रहे हैं उन सभी डॉक्टरों को कोविद 19 वारियर्स के तौर पर सम्मानित कर रहे हैं.

वहीं आई.पी.एस के बच्चों अक्षत, तमन्ना, रूपल, मुस्कान, पीयूष से जब उनका अनुभव सांझा करने को कहा गया तब उन्होंने बतलाया कि यह हमारे लिए अत्यंत ही गर्व की बात है कि हमें कोविद 19 वॉरियर्स को सम्मानित किए जाने मौका मिला आज तकरीबन दीपका व कोरबा के अनेकों डॉक्टरों से प्रत्यक्ष तौर पर रूबरू होकर अच्छा लगा व आगे भी चाहेंगे कि हमे ऐसा शौभाग्य प्राप्त होता रहे. वहीं साम 7 से 8 बजे डॉक्टरों हेतु ऑनलाइन वेबिनार का भी आयोजन किया गया जिसमें डॉक्टर सतीश गुप्ता कार्डियोलॉजिस्ट जी मुख्य वक्ता के तौर पर उपस्थित रहे साथ ही साथ कोरबा जिले के विभिन्न डॉक्टरों ने वेबिनार को जॉइन कर सफक बनाया वेबिनार का टॉपिक integrated meditation as medicine in modern health care रखा गया था जिसमे जिले के विभिन्न आम नागरिकों ने भी हिस्सा लेकर आयोजन को सफल बनाया

प्रतिक्रिया के रूप में जब डॉक्टर देबनाथ से उनकी मन्सा जाननी चाही तो उन्होंने अभिव्यक्त करते हुवे बतलाया कि डॉक्टर संजय गुप्ता (आई.पी.एस) द्वारा उठाई गई यह पहल काबिलेतारीफ है, इससे सभी डॉक्टरों का मनोबल बढ़ेगा जो कोविद 19 त्रासदी के दौरान फ्रंट लाइन वॉरियर्स के तौर पर समाज की सेवा तथा सुरक्षा में योगदान दिया, उन्होंने बच्चों को लक्ष्मी नारायण की तस्वीर भेंट करते हुवे कहा कि मनुस्य जीवन अनमोल है हमें इनकी तरह अपने में गुणों को भरना चाहिए चूंकि कोई भी व्यक्ति महान तभी बनता है, जब उसके अंदर सकारात्मक गुण हों लक्ष्मी व नारायण सतयुग के देवी देवता प्रिंस व प्रिंसेस हैं व अपने गुणों की वजह से दाता प्रवित्ति की वजह से पवित्रता की वजह से आज कलयुग में पूजे जाते हैं हमें भी इतने ऊंच लक्ष्य रखने चाहिए कि कलयुग का नर ऐसी करनी करे कि नर से सतयुग में जाकर नारायण बन जाये व कलयुग में नारी ऐसी करनी करे कि सतयुग में जाकर नारी से श्री लक्ष्मी बन जाये इस तरह जहां जहां आई पी एस की टीम डॉक्टरों को सम्मानित करने पहुंची वहां वहां डॉक्टरों द्वारा भी बड़े ही उमंग उत्साह के साथ स्वागत कर सकारात्मक प्रतिक्रिया दी गई जिससे बच्चों के उत्साहवर्धन भी होता रहा.

Show More

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
Close