Chhattisgarh

चाईल्ड हेल्पलाईन एवं महिला बाल विकास की टीम ने रुकवाया बाल विवाह.. पढ़े पूरी खबर.

छत्तीसगढ़/जांजगीर-चाम्पा/सक्ती : जिला विधिक सेवा प्राधिकरण अध्यक्ष राजेश कुमार श्रीवास के दिशा निर्देश एवं अध्यक्ष तालुका विधि सेवा समिति संतोष कुमार आदित्य के निर्देश में सुश्री राजेश्वरी सूर्यवंशी मजिस्ट्रेट थाना शक्ति चाइल्ड हेल्पलाइन सक्ती तथा महिला बाल विकास विभाग की टीम ने ग्राम टेमर में एक बाल विवाह रुकवाया l इस संबंध में सुश्री सूर्यवंशी ने बताया कि सक्ती के अंतर्गत ग्राम टेमर में बाल विवाह की सूचना पर चाइल्ड हेल्पलाइन सक्ती को मिली जिसके द्वारा युक्त सूचना मजिस्ट्रेट सक्ती को दी गई जिसके अनुसार ग्राम टेमर के वार्ड नंबर 13 नाबालिक यशोदा पुत्री केशव प्रसाद का विवाह ग्राम आमदुला निवासी संतोष पिता छोटू पांडे से तय हुआ था , जिसमें आज बरात आने वाली थी लेकिन सूचना प्राप्त होते ही तालुका विधिक सेवा समिति सक्ती चाइल्ड हेल्पलाइन थाना एवं महिला बाल विकास अधिकारी के टीम एवं विधिक प्राधिकरण के साथ युक्त ग्राम पहुंचे जहां नाबालिक बालिका की उम्र 17 वर्ष 11 माह उसके स्कूल दस्तावेजों की जांच के आधार पर पाया गया जांच उपरांत परिजनों एवं माता-पिता को यह समझाइश दी गई कि किसी भी कन्या का विवाह 18 साल से कम उम्र एवं लड़के का 21 साल से कम उम्र में विवाह करना अपराध है समझा इसके बाद उसके परिजनों ने विवाह कार्यक्रम को स्थगित करते हुए आगामी एक महीना बाद 18 साल पूर्ण होने के बाद विवाह संपन्न करने का आश्वासन दिया l बाल विवाह रोका गया l इसके अतिरिक्त सुश्री सूर्यवंशी के पारा कथित परिवार को बाल विवाह को वैधानिक स्थगित एवं सामाजिक कुरीती के बारे में जानकारी प्रदान की गई l इस पूरी कार्रवाई के दौरान महिला बाल विकास सर्वेक्षक सरस्वती चौहान, चाइल्ड हेल्पलाइन सक्ती से सरिता धीरहे , थाना से सहायक उप निरीक्षक पुष्पराज तथा ग्राम सरपंच टीम उपस्थित रही l

Show More

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
Close