Chhattisgarh

कुसमुण्डा : SECL कुसमुण्डा “आंखे नम है, पता तो था जाना है, पर ऐसा लगता है जाना, ये किसे पता था” 26 कर्मचारी हुए सेवानिवृत्त.

कुसमुण्डा प्रबन्धन में रिटायरमेंट (सेवानिवृत्त) का सिलसिला लगातार जारी है, इसे इकत्फाक कहिये या समय चक्र का फेरा जब एक साथ प्रतिमाह 20 से 30 की संख्या में कर्मचारी रिटायर्ड हो रहे है।

इसी कड़ी में आज दिनाँक 30/06/2020 को 26 कर्मचारी सेवानिवृत्त हुए, जिन्हें कुसमुण्डा परियोजना के प्रोजेक्ट कार्यालय में ससम्मान विदाई दी गयी…

विदाई के इस अवसर पर प्रबंधक कार्मिक अजय कुमार, उप प्रबंधक कार्मिक शैलेंद्र पराशर, अंकिता राठौर ,सुरेश कुमार गुप्ता कार्यालय अधीक्षक ने शोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए एक एक करके सभी कर्मचारियो को श्री फल, शॉल व प्रमाण पत्र देकर ससम्मान उनके स्वस्थ जीवन व उज्ववल भविष्य की कामना की ।

प्रबन्धन का कहना है कि कोलइंडिया को महारत्न बनाने वाले ये कर्मचारी कोल इंडिया के अभिन्नं अंग है, भले ही ये आज सेवानिवृत्त हो गए है, परन्तु ये सदैव कोल इंडिया परिवार से जुड़े रहेंगे…

आज सेवानिवृत्त होने वाले कर्मचारियो में शुभाशीष सरकार , राजेश्वर सिंह, बैजनाथ देवांगन, वीरेंद्र मिंज, दयाराम अहिरवार, दीपक राजाराम , घनश्याम पीडी, गोरेलाल , इंतसार अख्तर, जाकिर हुसैन खान, जवाहरलाल चंद्रा, एम एल पांडे, मदन मोहन थवाईत, माधुरी एस सोना, महादेव गलपत , नवधा राम, नित्यानंद सिन्हा, पोखन लाल यादव , रघु प्रताप सिंह, रामानू राम, रामझुल उइके, एसएन भट्टाचार्य, शत्रुघ्न लाल, सुमत राम पटेल, सुंदर सिंह, व तुल साय जी रहे..

कार्यालय से बाहर निकलते ही सभी को आंखों में नमी थी, किसी को यकीन ही नही हो रहा था कि वे अब सेवानिवृत्त हो गए है। जाहिर है जंहा जीवन के इतने कर्मशील वर्ष बिता दिए वँहा का छूट जाना मन को पीड़ा जरूर देता है।

ओम गभेल

Show More

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
Close