Crime

शर्मनाक: 16 साल की लड़की पर तालिबानी जुल्म, प्रेमी को बांए कंधे पर बिठाकर घुमाया..

गुजरात में एक नाबालिग लड़की को तालिबानी सजा दिए जाने के मामले ने कानून-व्यवस्था पर सवाल खड़े कर दिए हैं। यहां के छोटा उदेपुर जिले में आदिवासी इलाके की एक 16 वर्षीय लड़की को उसके गांव के लोगों ने बुरी तरह पीटा। प्रेम-प्रसंग के लिए लड़की के साथ बहुत ही अपमानजनक बर्ताव किया गया। लड़की के सगे-संबंधी भी उसे प्रताड़ित करने में शामिल थे। लड़की के पहले दोनों हाथ बांधकर बाल खींचे गए। उसे लात-घूंसे मारे गए। डंडे मारकर घसीटा भी गया। लोगों ने उसे तब तक पीटा जब तक कि, डंडे टूट नहीं गए।

इस घटना की वीडियो रिकॉर्डिंग भी की गई। जिसके बाद वह वीडियो वायरल होने लगा। मामला पुलिस-प्रशासन तक पहुंचा। जिले के पुलिस अधीक्षक ने कहा कि, मामले की जांच की जा रही है। 3 लोगों को हिरासत में लिया गया है। वहीं, महिला सांसद का भी बयान आया कि, ऐसी क्रूरताभरी हरकत के दोषियों को सजा दिलाएंगे। मगर, उसके बाद सामने आया कि, उस लड़की को और भी यातनाएं दी गई थीं। लोगों ने लड़की और उसके प्रेमी दोनों को पकड़कर बेइज्जत किया।

28 मई को एक अन्य वीडियो वायरल हुआ, जिसमें दिख रहा था कि, लड़की के बाएं कंधे पर उसके प्रेमी को बिठा दिया गया। उसके बाद उन्हें गांव से होकर निकाला गया। लड़के की उम्र करीब 20 साल है। दोनों एक-दूसरे से शादी करने के इरादे से भागे थे। इसी बात से परिजन खफा थे। पंचायत ने उन्हें तालिबानी सजा दिए जाने का फरमान सुना दिया। जिसके बाद निर्दयता से लड़की को पीटा गया। वह बिलखती रही और खुद को छोड़ देने के लिए कहती रही।

पुलिस का कहना है कि, पूरे मामले में शनिवार को दो और लोगों को गिरफ्तार किया गया है। शनिवार को ही पुलिस ने युवक को गिरफ्तार किया और उस पर शादी का लालच देकर लड़की को अगवा करने का मामला दर्ज किया। अब सवाल यह उठ रहे हैं कि, लड़की को पीटने वाले लोग तो और थे, जिनमें उस लड़की का चाचा भी शामिल है। उन लोगों से इतर युवक पर लड़की को अगवा करने का मामला कैसे दर्ज हुआ।

रंगपुर पुलिस स्टेशन के सब-इंस्पेक्टर डीएम वसावा ने कहा- ”यह सच है कि लोगों ने लड़की को गांव के स्कूल के पास निर्दयता से पीटा था। मगर, उससे पहले ही लड़की और लड़के को बेइज्जत करने का वीडियो शूट किया गया था। वीडियो को उस दिन शूट किया गया था, जब उससे छेड़खानी हुई थी। जिसके दो दिन बाद वीडियो वायरल हो गया।”

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!