National

बिजौलिया : अब कस्बेवासी उठाएंगे गुजरात और सिंगावल के बने मिट्टी के बर्तनों में खाने का लुत्फ

बिजौलियां(जगदीश सोनी)। गर्मी में अमीर लोग फ्रिज  या अन्य संसाधनों से ठंडे पानी का लुत्फ उठाते हैं लेकिन गरीबों के लिए मिट्टी से बनी मटकियां ही फ्रिज का काम देती हैं। फ्रिज के पानी के स्वास्थ्य और पाचन संस्थान पर बढ़ते दुष्प्रभावों के कारण मिट्टी की मटकियां और बर्तनों का प्रचलन इन दिनों फिर से बढ़ा हैं।मिट्टी के बर्तनों में खाना बनाने और खाने के अनगिनत लाभ को देखते हुए कस्बे में भी मिट्टी के बर्तनों की दुकानें और बिक्री बढ़ने लगी हैं। केसरगंज चौराहे पर संजय प्रजापत द्वारा रविवार को शुरू की गई ऐसी ही एक मिट्टी के बर्तनों की दुकान का शुभारंभ पूर्व सरपंच दिनेश धाकड़ और समाजसेवी मोहनलाल प्रजापत द्वारा किया गया।संजय प्रजापत ने बताया कि कस्बेवासियों की सुविधा के लिए गुजरात और सिंगावल(अजमेर) के बने सभी तरह के मिट्टी के बर्तन वाजिब दाम पर उपलब्ध हैं। इनमे गुजरात और सिंगावल की बनी स्पेशल मटकियां भी शामिल हैं।जिन्हें   कलर करने और  टोंटियां लगाने का काम यहां किया जाता हैं।इसके अलावा मिट्टी से बने कढ़ाई, भगोना, बोतल, बाटी ओवन, कुकर, टिफिन, कटोरी, रसोई में काम आने वाले सारे बर्तन, खिलौने और गुल्लक भी मौजूद हैं।

Show More

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
Close