ChhattisgarhCrime

कोरबा : खनिज और पर्यावरण विभाग की संयुक्त कार्यवाही…अवैध खनन मामले में कोरबा की एक बड़ी ठेका कंपनी ने प्रशासन को लगाया करोड़ों का चुना…

कोरबा में प्रदेश की एक बड़ी ठेका कंपनी के खिलाफ जिला प्रशासन की बड़ी कार्रवाई बताया जा रहा है कि ठेका कंपनी को बालको के राखड़ बांध के रेजिंग का काम दिया गया था। लेकिन ठेका कंपनी ने बड़े पैमाने पर गौण खनिज जैसे रेत, मिटटी और बोल्डर का अवैध खनन कर न केवल शासन को करोड़ों रूपये की क्षति पहुचाई, बल्कि इन अवैध खनन से प्राप्त खनिजों को राखड़ बांध में बैखौफ होकर इस्तेमाल भी किया गया। इस पूरे मामले की शिकायत कोरबा कलेक्टर किरण कौशल से की गयी थी। जिस पर कलेक्टर किरण कौशल ने फौरन इस गंभीर मामले पर संज्ञान लेते हुए खनिज और पर्यावरण विभाग की संयुक्त टीम बनाकर बालको सहित एनटीपीसी, सीएसईबी, लैंका व दूसरे अन्य पॉवर प्लांटों के राखड़ बांध की जांच का आदेश दिया गया था।

पर्यावरण, खनिज तथा सिविल इंजीनियर आरईएस के अधिकारियों द्वारा 27 मई को संयुक्त जांच किया गया। जांच दल के द्वारा संबंधित कंपनियों के अधिकारियों/ प्रतिनिधियों की उपस्थिति में जांच कर पंचनामा तैयार किया गया। इसके आधार पर खनिज विभाग के द्वारा बालको प्रबंधन को नोटिस जारी की गई है।

कलेक्टर किरण कौशल ने इस पूरे प्रकरण से संबंधित ठेकेदारों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने की बात कही है। कोरबा कलेक्टर की इस बड़ी कार्रवाई के बाद एक बार फिर पॉवर प्लांट के राखड़ बांध में अवैध खनन के जरिये मोटा पैसा कमाने वाले ठेका कम्पनियों के बीच हड़कंप मच गया है। जिला प्रशासन ने जिले के सभी राखड़ बांधों की जांच शुरू कर दी है। ऐसे में उम्मींद जताई जा रही है कि आने वाले दिनों में और भी लोगों के खिलाफ बड़ी कार्रवाई कोरबा में हो सकती है।

Show More

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
Close