Chhattisgarh

छत्तीसगढ़ : उरगा से धरमजयगढ़, एवं खरसिया-धरमजययगढ़-घरघोड़ा से डौगामोहा रेल लाइन हेतु भूमि आवंटन प्रस्ताव को राजस्व मंत्री ने दी स्वीकृति

छत्तीसगढ़/रायपुर :

प्रदेश के राजस्व एवं आपदा प्रबंधन मंत्री श्री जयसिंह अग्रवाल की अध्यक्षता में विगत दिवस आयोजित राजस्व विभाग की अंतर विभागीय समिति की बैठक संपन्न हुई।बैठक में विशेष रेल परियोजना खरसिया से धरमजयगढ़, घरघोड़ा से डोंगामौहा के लाईन सहित 104 कि. मी. बरौद फीडर रेल लाईन/साईडिंग हेतु शासकीय भूमि का हस्तांतरण एवं भारतीय रेल विभाग को विशेष रेल परियोजना हेतु पूर्व रेल गलियारे उरगा से धरमजयगढ़ तक नई रेल लाईन बिछाने हेतु शासकीय भूमि का आबंटन हेतु प्रस्ताव पारित किया गया। रेल परियोजना के लिए भूमि आवंटन के लिए ‌नियमानुसार छत्तीसगढ़ भू राजस्व संहिता के तहत निर्धारित प्राबयाजि एवं भू भाटक निर्धारित किया जा कर भारतीय रेल विभाग दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे बिलासपुर को विशेष शर्तों पर हस्तांतरण किया जाना प्रस्तावित किया गया है । रेल परियोजना के लिए रायगढ़ जिले की धर्मजयगढ़ तहसील के ग्राम पुसलदा की। 1.026 हेक्टेयर, चितापाली की=0.232 हेक्टेयर, चंद्रशेखरपुर की 0. 874 हेक्टेयर, रूंपूगी की 0.341हेकटेयर, दुर्गापुर की 0.92 8 हेक्टेयर, फगुरम की 13 .718 हेक्टेयर, और कटाईपाली ग्राम की 1.026 शासकीय भूमि विशेष रेल परियोजना खरसिया से धर्मजयगढ़ घरघोड़ा से डोंगामौहा तक रेल लाइन के लिए भूमि आवंटित करने के लिए प्रस्तावित किया गया है। राजस्व मंत्री ने कहा कि लंबे समय से प्रस्तावित इस रेल्वे परियोजना को अंतर्विभागीय समिति की बैठक मे स्वीकृति करवाया गया। इस नए रेल परियोजना से जनता को लाभ मिलेगी और विकास कार्यो को गति प्राप्त होगा, बेहतर यातायात उपलब्धता से क्षेत्र मे रोजगार और उद्योग को बढ़ावा मिलेगा । उन्होने कहा कि सर्वांगीण विकास हेतु सुगम यातायात अति आवश्यक है इससे क्षेत्र की उत्पादकता बढ़ती है। क्षेत्रीय निर्माण एवं खनिज उत्पादकता और ज्यादा से ज्यादा लोगो तक पहुंचती है और अर्थव्यवस्था भी मजबूत होता है । बैठक मे राजस्व सचिव सुश्री रीता सांडिल्य, पंजीयक वाणिज्यिक कर श्रीमती पी संगीता, अपर सचिव वित्त सतीष पाण्डेय उपस्थित थे ।

Show More

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!