ChhattisgarhCorona Update

कोरबा: अन्य राज्यों से जिले में आने वाले श्रमिकों को रखा जायेगा 14 दिन क्वारेंटाईन में.. श्रमिकों के रहने, भोजन-पानी की समुचित व्यवस्था सुनिश्चित करने कलेक्टर ने दिए निर्देश.

छत्तीसगढ़/कोरबा: कलेक्टर किरण कौशल ने अन्य राज्यों से गृह जिला कोरबा में आने वाले श्रमिकों को उनके निवास ग्राम में 14 दिन की क्वारेंटाईन में रखने के निर्देश सभी नगरीय निकाय एवं जनपद पंचायतों के प्रमुखों को दिए हैं। कलेक्टर ने क्वारेंटाईन किये जाने वाले सभी श्रमिकों के रहने, भोजन-पानी, चिकित्सा स्टाफ, स्वच्छता, सुरक्षा, सेनेटाइजेशन सहित कोरोना के संक्रमण से बचाव की समुचित व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने बाहर से आने वाले श्रमिकों की जानकारी हेतु तहसील स्तर पर चैबीस घंटे चलने वाले नियंत्रण कक्ष की स्थापना करने के भी निर्देश दिये हैं। श्रमिकों के परिजन कंट्रोल रूम में बाहर गये श्रमिकों के बारे में जानकारी दे सकते हैं। कलेक्टर ने जिला स्तर पर स्थापित वाॅर रूम की तरह ही तहसील स्तर पर भी वाॅर रूम की स्थापना करने के निर्देश अधिकारियों को दिए हैं ताकि कोरोना के संदर्भ में आ रही समस्याओं का निराकरण हो सके तथा जिला स्तर पर निराकरण योग्य समस्याओं के संबंध में जिला स्तरीय वॅार रूम को अवगत कराया जा सके। कलेक्टर ने जिला स्तर पर प्रसारित आदेश की तरह ही नगर निगम हेतु आयुक्त नगर पालिक निगम को तथा शेष नगरीय निकाय हेतु अनुविभागीय दण्डाधिकारी कटघोरा एवं जनपदों हेतु तहसीलदार को विभिन्न कार्यों हेतु आदेश जारी करने के निर्देश दिए हैं। यह आदेश क्वारेंटाईन प्रभारी, आइसोलेशन सेंटर प्रभारी, सेम्पलिंग प्रभारी, कम्युनिटी सर्विलेंस प्रभारी की ड्यूटी लगाने से संबंधित होगी।

कलेक्टर ने जिले के सभी एंट्री बेरियर के बाहर श्रमिकों के लिए होल्डिंग एरिया तैयार करने के निर्देश दिए हैं। होल्डिंग एरिया में पर्याप्त मात्रा में टेंट, पानी तथा बिस्किट पैकेट रखने के निर्देश तथा बाहरी राज्यों से आने वाले श्रमिकों के लिए बनाये जाने वाले क्वारेंटाईन सेंटर में साफ-सफाई, दरी, बाल्टी-मग, पानी रखने हेतु बड़े ड्रम साबुन आदि की व्यवस्था दो दिवस के अंदर सुनिश्चित करने के निर्देश कलेक्टर ने दिए हैं। कलेक्टर ने कहा कि आगामी दो दिवस में जिले में आने वाले श्रमिकों को एक लव्य विद्यालय के बालक छात्रावास में ठहराया जायेगा। उन्होंने श्रमिकों के आवागमन हेतु प्रयुक्त बसों को अनिवार्य रूप से सेनेटाईज करने के निर्देश दिये हैं।

कलेक्टर ने कहा है कि अन्य राज्यों से आने वाले श्रमिक कोरोना संक्रमित हो सकते हैं, जिनमें स्थानीय समुदाय में कोरोना वायरस का संक्रमण निश्चित रूप से फैल सकता है। क्वारेंटीन का पालन न करने से फैले संक्रमण पर काबू पाना अत्यंत कठिन होगा। इसलिए जिले के सभी ग्राम पंचायतों-नगरीय निकायों में अन्य राज्यों से आने वाले व्यक्तियों की जानकारी देने के लिए आए हुए व्यक्तियों, उनके परिजनों एवं जन साधारण को प्रोत्साहित किया जा रहा है।

Show More

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!