National

हॉस्टल के कमरे में मृत मिली हाउस सर्जन, कोरोना मरीजों का कर रही थी उपचार..

देश कोरोना वायरस की महामारी से जूझ रहा है. कोरोना के मरीजों की तादाद लगातार बढ़ती जा रही है. लॉकडाउन के बावजूद कोरोना के मरीज लगातार बढ़ते जा रहे हैं. अस्पतालों में भी कोरोना के मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है. कोरोना के मरीजों के उपचार में जुटे कोरोना कमांडोज संक्रमण के खतरे की परवाह किए बिना दिन-रात जुटे हैं.

तमिलनाडु के चेन्नई में कोरोना के मरीजों के उपचार में जुटी मेडिकल की एक छात्रा की मौत का मामला सामने आया है. वेल्लोर की रहने वाली ये छात्रा चेन्नई के किलपुक मेडिकल कॉलेज अस्पताल में पढ़ती थी. इसे हॉस्टल के कमरे में मृत पाया गया. सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भिजवा दिया है.

छात्रा के आत्महत्या करने की आशंका जताई जा रही है. हालांकि, पुलिस पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट का इंतजार कर रही है. बताया जाता है कि शुक्रवार को छात्रा हॉस्टल के अपने कमरे से बाहर नहीं निकली. हॉस्टल में रहने वाली अन्य छात्राओं ने किसी अनहोनी की आशंका से अलॉर्म बजा दिया. जब हॉस्टल की वॉर्डन आईं, छात्रा बेहोश पड़ी मिली.

छात्रा को आनन-फानन में अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया. सूचना पाकर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भिजवा दिया. पुलिस इसे प्रथम दृष्टया आत्महत्या का मामला मानकर जांच कर रही है. छात्रा के परिजनों के अनुसार उसने गुरुवार की रात वॉट्सएप पर अपने माता-पिता से बात की थी.परिजनों के अनुसार वह काफी तनाव में थी. मृतका हाउस सर्जन थी. इस समय वह कोरोना वायरस के मरीजों का उपचार कर रही थी.

Show More

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!