ChhattisgarhCorona Update

कोरबा: कोरोना वायरस के कारण अंतरिम जमानत पर रिहा किये गये बंदी.. अब 31 मई 2020 को संबंधित न्यायालय में होंगे उपस्थित.

छग/कोरबा: माननीय उच्चतम न्यायालय के द्वारा Suo Motu Writ Petition (C) No. 1/2020 in Re contagion of Covid 19 Virsus in Prisons आदे श दिनांक 23 मार्च 2020 के मामले में पारित निर्दे शानुसार दिनांक 02 अपे्रल 2020 को छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय बिलासपुर के द्वारा द्वितीय हाई पावर कमेटी की बैठक ली गई । उक्त बैठक में छत्तीसगढ़ राज्य के विभिन्न जेलों में निरूद्ध विचाराधीन बंदी/सजायाफ्ता बंदी जिन्हें 07 साल की सजा या उससे कम की सजा का प्रावधान था एैसे छत्तीसगढ़ राज्य के स्थानीय निवासियों को स्वयं के मुचलके पर जिला न्यायालय कोरबा के अधीनस्थ न्यायालयों के द्वारा दिनांक 30 अपे्रल 2020 तक अंतरिम जमानत पर रिहा किया गया था। तथा उन्हें दिनांक 30 अपे्रल 2020 तक संबंधित न्यायालय में उपस्थित होकर समर्पण करने हेतु आदे श जारी किया गया था।

जिले जिसे माननीय छ.ग. उच्च न्यायालय बिलासपुर के आदे श दिनांक 21 अपे्रल 2020 के द्वारा हाई पावर कमेटी की अनु शंसा में दिनांक 30 अप्रैल 2020 तक अंतरिम जमानत/पै रोल पर रिहा किये गये अभिरक्षाधीनबंदी/विचाराधीन बंदी को न्यायालय में समर्पण करने की तिथि दिनांक 30 मई 2020 तक बढ़ाया गया है।

जिला जेल कोरबा एवं उपजेल कटघोरा में अंतरिम जमानत पर रिहा किये गये अभिरक्षाधीन बंदियों को सूचित किया जाता है कि वे दिनांक 30 अप्रैल 2020 के स्थान पर दिनांक 31 मई 2020 को संबंधित न्यायालय में उपस्थित होकर समर्पण करना सुनिश्चित करें।

Show More

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!