Chhattisgarh

कवर्धा : राजस्थान के कोटा से आने वाले विद्यार्थियों के लिए क्वारेन्टाईन सेन्टर तैयार.. स्वास्थ्य परीक्षण के लिए बनी आठ टीम.

छत्तीसगढ़/कवर्धा : कोरोना वायरस के रोकथाम, नियंत्रण और उनके प्रसार को रोकने के लिए राजस्थान के कोटा से आने वाले छत्तीसगढ़ की विद्यार्थियों को कबीरधाम जिले में रखने की आवश्यक तैयारियां कर ली गई है। कबीरधाम जिले में रायपुर और महासमुंद जिले के विद्यार्थियों को यहां 14 दिनों के क्वारेन्टाईन में रखा जाएगा। क्वारेन्टाईन में रखने के साथ-साथ जिला प्रशासन द्वारा गठित विशेष चिकित्सा अधिकारियों की निगरानी में भी रखी जाएगी। रायपुर जिले के 140 और महासमुदं जिले के 120 विद्यार्थी है। इन विद्यार्थियों में 135 छात्र और 117 छात्रा है। लड़कों को बोडला में संचालित आश्रम और छात्रावास में क्वारेन्टाईन किए जाएंगें, इसी तरह लडकियों को क्वारेन्टाईन करने के लिए कवर्धा के महराजपुर स्थित कन्या शिक्षा परिसर केन्द्र बनाया गया।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के विशेष पहल पर लाॅकडाउन के दौरान राजस्थान के कोटा में पढ़ाई कर रहे छात्र-छात्राओं की छत्तीसगढ़ वापसी हो रही है। कलेक्टर श्री अवनीश कुमार शरण ने आज इन दोनों क्वारेन्टाईन सेंटर की आवश्यक तैयारियों की जानकारी लेने के लिए निरीक्षण किया। कलेक्टर ने कोटा से कवर्धा आने से पहले क्वारेंन्टाईन सेन्टर को अच्छी तरह से सेनेटाईटरस करने के आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। कलेक्टर ने विद्यार्थियों की विशेष देखरेख करने के लिए शिक्षा विभाग और आदिमजाति विकास विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए। कलेक्टर के साथ जिला पंचायत सीईओ श्री विजय दयाराम के ने भी क्वारेन्टाईन केन्द्र के आवश्यक तैयारियों का जायजा लिया। इस अवसर पर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ एसके तिवारी, एसडीएम कवर्धा  विपुल गुप्ता, एसडीएम बोडला  विनय सोनी, डीपीएम  नीलू घृतलहरे विशेष रूप से उपस्थित थे।

रेपीड कीट से होगी जांच, लक्ष्ण पाए जाने पर कारेन्टाईन अस्पताल होंगे शिफ्ट होंगे छात्र

कोटा से आने वाले विद्यार्थियों के स्वास्थ्य परीक्षण के लिए पूरी तरह से सतर्कता बरती जा रही है। बस से उतरने के बाद सभी विद्यार्थियों को निर्धारित स्थल पर स्वास्थ्य परीक्षण के लिए ठहराया जाएगा। बच्चों का स्वास्थ्य परीक्षण कोरोना वायरस के परीक्षण के लिए प्राप्त रेपीडकीट से जांच की जाएगी। जांच में किसी भी विद्याथिर्यों में सर्दी-खासी, बुखार और कोरोना वायरस के लक्ष्ण प्रतित होती है, तो उन्हे तत्काल जिला प्रशासन द्वारा बनाए गए कारेन्टाईन हास्पीटल में शिफट किए जाएंगे। जिन विद्यार्थियों को स्वास्थ्य सामान्य होगा उन्हे भी 14 दिनों के लिए चिकित्सकों की विशेष निगरानी में कारेन्टाईन केन्द्र में रखा जाएगा।

कोटा से आने वाले विद्यार्थियों की स्वास्थ्य परीक्षण के लिए आठ टीम बनी

कलेक्टर श्री अवनीश कुमार शरण निर्देश पर कबीरधाम जिले में कोटो से आने वाले छत्तीसगढ़ के विद्यार्थियों के स्वास्थ्य परीक्षण के लिए आठ अलग-अलग टीम बनाई गई है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ एसके तिवारी ने बताया कि बोडला और महराजपुर में बनाए गए कारेन्टाईन केन्द्र में विद्यार्थियों का स्वास्थ्य परीक्षण के लिए आठ अलग-अलग टीम बनाई गई हैं। बोडला और कवर्धा में चार टीम रहेगी। प्रत्येक टीम में एक मेडिकल आफिसर और उनके सहयोग के लिए एएमओ, लैब टेक्निशियन, एएनएम को शामिल किया गया है। इसके लिए स्वास्थ्य अमलों को विशेष प्रशिक्षण दिए गए है।

संवाददाता : केशरी नंदन तिवारी, कवर्धा

Show More

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!