ChhattisgarhCrime

कोरोना काल : खंडेलवाल डिजिटल एक्सरे ने नियमों की धज्जियां उड़ाई तो प्रशासन ने ठोका एक लाख रुपये का जुर्माना

छत्तीसगढ़ के धमतरी जिले में कोविड-19 के संक्रमण को रोकने प्रशासन द्वारा सोशल और फिजिकल डिस्टेंसिंग के नियमों का कड़ाई से पालन कराने लगातार समझाइश दी जा रही है। उसके बाद भी गैरजिम्मेदार लोग प्रशासन की सुनने को तैयार नहीं है। शुक्रवार को शहर के रत्नाबांधा चौक के पास खंडेलवाल डिजिटल एक्सरे क्लिनिक प्रशासन की टीम ने कार्रवाई की और एक लाख रुपये का जुर्माना वसूला।

खंडेलवाल के यहां लोगों की बेतरतीब भीड़ जुटने तथा सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का उल्लंघन करने पर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी द्वारा संचालक को नोटिस जारी कर जवाब मांगा गया तथा इसे गम्भीरता से लेते हुए एक लाख रूपए का अर्थदण्ड वसूला गया।


एसडीएम धमतरी मनीष मिश्रा ने बताया कि राष्ट्रीय राजमार्ग पर रत्नाबांधा चौक के समीप स्थित उक्त क्लीनिक में भीड़ एकत्रित होने तथा सोशल व फिजिकल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन नहीं करने की शिकायतें मिलीं।

कलेक्टर रजत बंसल के निर्देशानुसार उक्त शिकायत पर फौरी तौर पर कार्रवाई करते हुए शुक्रवार 24 अप्रैल को सुबह 11.30 बजे राजस्व, स्वास्थ्य एवं पुलिस विभाग की संयुक्त टीम द्वारा मौके का निरीक्षण किया गया। इस दौरान क्लिनिक के भीतर व बाहर काफी संख्या में लोगों का एकत्रित होना तथा नियमों का खुलेआम उल्लंघन होना पाया गया। इसे संज्ञान में लेते हुए धमतरी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. डीके तुर्रे द्वारा खंडेलवाल क्लिनिक के संचालक को नोटिस जारी कर एपिडेमिक डिसिजेज एक्ट-1897 के तहत छह बिंदुओं के आधार पर 24 घण्टे के भीतर जवाब मांगा गया। साथ ही धारा-188 में वर्णित नियमों का पालन नहीं किए जाने पर कलेक्टर के निर्देश पर रेडक्राॅस सोसायटी धमतरी शाखा के द्वारा एक लाख रूपए के अर्थदण्ड की रसीद काटी गई। इस दौरान टीम द्वारा भविष्य ऐसे कृत्य नहीं करने की भी समझाइश क्लिनिक संचालक को दी गई।

गौरतलब है कि कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी द्वारा जिले में कोरोना वायरस कोविड़-19 के संक्रमण नहीं हो, इसके लिए धारा-144 लागू की गई तथा लाॅक डाउन के प्रभावी होने पर लगातार घरों में रहने, सोशल डिस्टेंसिंग मेन्टेन करने, हैण्डवाॅश अथवा सैनिटाइजर से सतत् हाथ की धुलाई करने तथा बाहर मास्क का प्रयोग अनिवार्य रूप से करने की अपील की जाती रही है। इसके बाद भी शासन के निर्देशों का पालन नहीं किए जाने पर यह कार्रवाई की गई। उन्होंने पुनः जिलावासियों से हरहाल में शासन द्वारा समय-समय पर दिए जा रहे निर्देशों का कड़ाई से पालन करने तथा स्वस्थ व संक्रमण रहित जीवन जीने की अपील करते हुए शासन-प्रशासन का हरसंभव सहयोग करने का आव्हान किया है।

Show More

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!