ChhattisgarhCorona Update

रायपुर: कोरोना संक्रमण से बचाव हेतु डिस्टिलरीज और समूह की महिलाओं द्वारा 3.76 लाख लीटर सेनिटाईजर का निर्माण.

छग/रायपुर: मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निर्देशन पर कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए प्रदेश में पर्याप्त मात्रा में सेनिटाईजर की उपलब्धता सुनिश्चित करने स्वास्थ्य विभाग के तकनीकी सहयोग से प्रदेश में सात डिस्टिलरीज और 13 जिलों में 41 महिला स्व-सहायता समूहों द्वारा अब तक 3 लाख 76 हजार 181 लीटर सेनिटाईजर का निर्माण किया गया है। इनमें से 2 लाख 59 हजार 238 लीटर सेनिटाईजर निःशुल्क एवं किफायती दर पर वितरित कर लोगों को कोरोना महामारी से बचाव में मदद की गई है।

प्रदेश में 7 आसवनी में सेनिटाईजर तैयार किया जा रहा है। आसवनी के 453 कर्मचारियों द्वारा 3 लाख 73 हजार 231 लीटर सेनिटाईजर और छत्तीसगढ़ राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन (बिहान) के 41 स्व-सहायता समूहों की 213 महिला सदस्यों द्वारा 2 हजार 950 लीटर सेनिटाईजर का निर्माण किया गया है। आसवनियों में निर्मित सेनिटाईजर की आपूर्ति भिलाई स्टील प्लांट, एम्स, एसईसीएल, नगर निगम एवं अन्य रिटेल थोक विक्रेताओं के साथ ही हरिरमानी डिस्ट्रिब्यूटर्स बिलासपुर, अमित ट्रेड बिलासपुर, नगर पंचायतों, ग्राम पंचायत, स्वास्थ्य विभाग, विभिन्न शासकीय विभागों, थोक एवं खुदरा औषधि विक्रेताओं को की गई है।

आबकारी विभाग के अधिकारियों ने बताया कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए सेनिटाईजर का निर्माण किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि अब तक दुर्ग जिले में मेसर्स छत्तीसगढ़ डिस्टिलरिज लिमिटेड खपरी-कुम्हारी में 200 कर्मचारियों द्वारा 96 हजार 700 लीटर और मेसर्स स्वर्णा होम केयर प्राॅडक्ट में 10 कर्मचारियों द्वारा 36 हजार लीटर सेनिटाईजर का निर्माण किया गया है। बिलासपुर जिले में मेसर्स वेलकम डिस्टिलरीज प्राईवेट लिमिटेड छेरकाबांधा-कोटा में 180 कर्मचारियों द्वारा 93 हजार 659 लीटर, मुंगेली जिले में मेसर्स भाटिया वाईन मर्चेन्ट्स प्राईवेट लिमिटेड ग्राम धूमा में 15 कर्मचारियों द्वारा एक लाख 7 हजार 362 लीटर सेनिटाईजर तैयार किया गया है। रायपुर जिले में मेसर्स एलन्स ड्रग्स सुपुर स्टेट न्यू पुरेना रायपुर में 5 कर्मचारियों द्वारा 13 हजार 625 लीटर, मेसर्स ट्रांसप्लेक्स जवाहर नगर रायपुर में 8 कर्मचारियों द्वारा 21 हजार 185 लीटर और मेसर्स ओपीजी फार्मा सिलतरा में 17 कर्मचारियों द्वारा 4 हजार 700 लीटर सेनिटाईजर का निर्माण किया गया है।

इसी तरह राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन बिहान की स्व-सहायता समूहों द्वारा 2 हजार 950 लीटर सेनेटाईजर बनाया गया है। इनमें दुर्ग जिले में 12, बलौदाबाजार जिले में 6, रायगढ़ जिले में 5, दंतेवाड़ा एवं सूरजपुर जिले में 4-4, बालोद जिले में 3 और धमतरी, सरगुजा, जांजगीर, कबीरधाम, गरियाबंद, कोरबा और कांकेर जिले में एक-एक स्व-सहायता समूहों द्वारा स्वास्थ्य विभाग के तकनीकी सहयोग से सेनिटाईजर का निर्माण शामिल है।

Show More

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!