ChhattisgarhCorona Update

कोरबा: तेरह रूपये बढ़ी महुआ की खरीदी दर.. अब तीस रूपये प्रति किलो में खरीदा जायेगा.. कोचियों के विरूद्ध कार्यवाही के भी दिए निर्देश.

छग/कोरबा: मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की पहल पर प्रदेश के लघु वनोपज संग्राहकों को उनकी मेंहनत का पूरा दाम दिलाने के लिए महुआ फूल की दर 13 रूपये बढ़ाकर 17 रूपये से 30 रूपये प्रति किलो कर दी गई है। अब जिले के वनांचलों में महुआ इकट्ठा कर वनोपज समितियों को बेचने वाले सभी वनवासियों को महुए का तीस रूपये प्रतिकिलो भाव मिलेगा। जिले में वर्तमान सीजन में कोरबा तथा कटघोरा वन मण्डल को मिला चार हजार 500 क्विंटल महुआ फूल खरीदी का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। जिसमें सीजन के शुरूआती दौर में भी लगभग साढ़े तीन सौ क्विंटल महुआ फूल की खरीदी अभी तक की जा चुकी है। कलेक्टर किरण कौशल ने आज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से कोरबा तथा कटघोरा वन मण्डलों में लघु वनोपजों के संग्रहण और खरीदी की गहन समीक्षा की। उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण के कारण चल रहे लाॅक डाउन से वन क्षेत्रों में रहने वाले लोग भी प्रभावित हो रहे हैं और वनोपजों का संग्रहण इस दौर में उनकी आय का महत्वपूर्ण साधन है। ऐसी स्थिति में वनवासियों को उनकी लघु वनोपजों का पूरा और बेहतर दाम दिलाने के लिए कलेक्टर ने अधिकारियों को गंभीरता के साथ काम करने की हिदायत दी। उन्होंने वनोपज संग्रहण करने वाले वनवासियों से न्यूनतम समर्थन मूल्य से कम दामों पर खरीदी या वस्तु विनिमय के आधार पर लघु वनोपजों की अदला-बदली पर गंभीरता से कार्यवाही करने के निर्देश वन विभाग के अधिकारियों को दिए। कलेक्टर कौशल ने चरौंटा बीज, हर्रा, बहेड़ा, महुआ, चार गुठली, बेल गुदा, फूल झाडू, शहद, साल बीज, आदि वनोपजों को शासन द्वारा निर्धारित न्यूनतम समर्थन मूल्य पर ही सुनिश्चित करने के निर्देश वन विभाग के अधिकारियों को दिए। उन्होंने किसी भी स्थिति में कोचियों और व्यापारियों द्वारा कम कीमत पर लघु वनोपजों की वनवासियों से खरीदी पर संबंधित क्षेत्र के वन विभाग के अधिकारियों को कार्यवाही करने के लिए भी निर्देशित किया।
कलेक्टर ने महुआ सहित सभी लघुवनोपजों का शासन द्वारा निर्धारित न्यूनतम समर्थन मूल्य ग्राम पंचायतों, शासकीय भवनों की दीवारों और खरीदी करने वाली वनोपज समितियों के कार्यालयों में लिखवाने के निर्देश दिए। उन्होंने महुआ के बढ़े हुए रेट की जानकारी वनवासियों को देने के लिए कोटवारों से मुनादी करवाने के निर्देश भी अधिकारियों को दिये। कलेक्टर ने कोविड-19 संक्रमण को ध्यान में रखते हुए सोशल डिस्टेंसिंग मेन्टेन कर खरीदी करने के निर्देश दिए। उन्होंने सभी संग्राहकों को सभी संग्रहण केंद्रों में सेनेटाईजेशन के लिए हाथ धोने की सुविधा देने के भी निर्देश दिए।

Show More

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!