ChhattisgarhCorona Update

कलेक्टर कौशल ने कटघोरा के विभिन्न इलाकों का किया दौरा.. जरूरी व्यवस्थाओं के लिए जारी किये जरुरी आदेश.

छग/कोरबा: कोरोना संक्रमित कटघोरा शहर में लाॅक डाउन और बढ़ती गर्मी को ध्यान में रखते हुए बिजली, पानी, सफाई सहित अन्य जरूरतों के लिए प्रशासन की तैयारियां शुरू हो गई है। आज कलेक्टर किरण कौशल ने अधिकारियों के साथ सुबह से ही कटघोरा पहुंचकर विभिन्न वार्डों और आसपास के इलाकों का दौरा किया तथा इन सभी जगहों पर कोरोना संक्रमण की रोकथाम को ध्यान में रखते हुए पानी, बिजली, सफाई आदि के सभी जरूरी इंतजाम करने के निर्देश दिये। कलेक्टर ने अपने कैंप कार्यालय में अलसुबह जिला स्तरीय अधिकारियों की बैठक ली और कटघोरा में बिजली, पानी, सफाई, राशन, मेडिकल सुविधाओं के लिए आगे की रणनीति पर विचार-विमर्श किया। कलेक्टर ने सभी अधिकारियों को आने वाले पांच-छह दिनों में जरूरत के सभी इंतजाम पूरे करने के निर्देश दिए। इसके बाद उन्होंने अधिकारियों के साथ पूरे शहर का दौरा किया और व्यवस्थाओं का जायजा लिया। इस दौरान एडीएम संजय अग्रवाल के साथ एसडीएम सूर्यकिरण, सीएमएचओ डा. बी.बी. बोडे, पीएचई के ईई श्री गौर और नगर पालिका के सीएमओ जे.बी.सिंह सहित अन्य अधिकारी भी मौजूद रहे।

चलेगा सफाई अभियान, जरूरी मशीनें, औजार और मानव संसाधन की व्यवस्था के निर्देश-

कलेक्टर किरण कौशल ने कोरोना संक्रमण के कोर एरिया के साथ-साथ पूरे शहर में सेनेटाईजेशन और सफाई अभियान शुरू करने के निर्देश अधिकारियों को दिये। उन्होंने कटघोरा शहर के हर गली-कूचे, सड़क,नाली आदि की सफाई कराने के निर्देश दिये। इस अभियान के लिए समयबद्ध विस्तृत कार्य योजना और जरूरी मशीनों तथा औजारों की भी दो दिनों में व्यवस्था करने के निर्देश कलेक्टर ने दिये। उन्होंने सफाई अभियान के लिए सफाई कर्मियों की भी पर्याप्त संख्या में ड्यूटी लगाने के निर्देश दिये। सभी सड़कों और नालियों से कचरा निकालने के साथ-साथ उसके उचित निपटान की जगह भी पहले से ही तय करने के निर्देश कलेक्टर ने दिए। श्रीमती कौशल ने नालियों में ब्लीचिंग पावडर और मिट्टी का तेल छिड़काव करने के निर्देश भी नगर पालिका परिषद के अधिकारियों को दिए।

कलेक्टर पहुंची शिकारी मोहल्ला, पानी आपूर्ति के लिए टंकियां लगाने दिये निर्देश-

गर्मी के मौसम और कोरोना संक्रमण से कटघोरा के अन्य क्षेत्रों को बचाये रखने के उद्देश्य से पानी आपूर्ति की व्यवस्था की समीक्षा भी कलेक्टर ने की। उन्होंने शहर के संक्रमण वाले कोर एरिया रहमानियां नगर में छुटे हुए पांच घरों में आगामी दो दिनों में नल कनेक्शन लगवाने के निर्देश दिए। श्रीमती कौशल ने कोर एरिया में किसी भी परिस्थिति में पानी या किसी अन्य जरूरत के लिए लोगों की भीड़ नहीं होने देने के निर्देश अधिकारियों को दिए। इसके बाद कलेक्टर कटघोरा से लगे हुए शिकारी मोहल्ला पहुंची। वहां उन्होंने लोगों को पानी की आपूर्ति के लिए नल वाली टंकियां लगाकर लोगों को पाईप के माध्यम से सोशल डिस्टेंसिंग रखते हुए पानी उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। श्रीमती कौशल ने यह भी निर्देशित किया कि पानी की किल्लत वाले इलाकों में चार-चार मीटर स्टेज वाली टंकियां लगाकर उनमें आठ से दस नल टोंटियां लगाकर पाईप के माध्यम से लोगों के घरों तक पानी पहुंचाया जाये ताकि लोग पानी के लिए घरों से बाहर निकलकर भीड़ न लगायें। उन्होंने शहर के नल कनेक्शन विहीन घरों वाले वार्डों में घर-घर ड्रम उपलब्ध कराने के निर्देश दिये। इन ड्रमों में टेंकरों के माध्यम से पाईप लगाकर लोगों के घरों में ही पानी पहुंचाने की व्यवस्था की जायेगी।

जुराली से वार्ड नंबर 10 होकर कटघोरा आने वाली सड़क पर नहीं होगी कोई आवाजाही_कटघोरा के कोरना संक्रमित वार्ड नंबर 10 से होकर जुराली को कटघोरा शहर से जोड़ने वाली सड़क पर सभी प्रकार की आवाजाहियों पर सख्ती से रोक लगाने के निर्देश कलेक्टर किरण कौशल ने आज दिये हैं। कलेक्टर आज सुबह कटघोरा से जुराली पहुंची और वहां से कटघोरा आने वाले सभी रास्तों का निरीक्षण किया उन्होंने कोरोना संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए इन सभी रास्तों को मजबूत बेरिकेटिंग कर बंद करने के निर्देश दिए साथ ही सीसीटीवी कैमरा भी लगाने को कहा। कलेक्टर को जुराली से सब्जी लेकर बड़ी संख्या में लोगों के संक्रमित एरिया से होकर कटधोरा शहर आने-जाने की सूचना मिली थी जिस पर तत्काल कार्यवाही करते हुए उन्होंने इन रास्तों को पूरी तरह बंद कर गहन निगरानी के निर्देश अधिकारियों को दिए। कॉलेक्टर कौशल ने सब्जियां लेकर आने के लिए जुराली से कसनिया होकर बरभाठा, ढेलवाडीह बाईपास से जेंजरा चैंक से कटघोरा का रास्ता तय किया है ताकि संक्रमित इलाकों से सब्जी उत्पादक किसानों को आना-जाना नहीं करना पड़े और वे कोरोना संक्रमित होने से बचे रहें। श्रीमती कौशल ने जुराली में स्पाट सोर्स योजना के तहत जगह-जगह लगाई गई पानी की टंकियों पर लोगों के नहाने, कपड़ा धोने या बर्तन आदि धोने और इकट्ठा होकर भीड़ लगाने पर भी रोक लगाने के निर्देश अधिकारियों को दिये। उन्होंने यहां भी लोगों को घरों में ड्रम उपलब्ध कराकर स्पाॅट सोर्स से पाईप द्वारा पानी की आपूर्ति करने के निर्देश दिए।

Show More

Related Articles

Back to top button