Chhattisgarh

कोरबा : बोर्ड परीक्षाओं के उत्तर पुस्तिकाओं की जाँच शुरू होने से पहले रसायन शास्त्र विषय के परीक्षार्थियों को प्रश्नपत्र में हुई त्रुटि से मिलने वाले अंको को लेकर बढ़ी परेशानी.. पढ़े पूरी खबर.

छत्तीसगढ़/कोरबा : माध्यमिक शिक्षा मंडल द्वारा बोर्ड परीक्षाओं के उत्तर पुस्तिकाओं की जाँच के लिये उत्तर पुस्तिकाओं का वितरण शुरू कर दिया है। उत्तर पुस्तिकाओं की जाँच शुरू होने से पहले रसायन शास्त्र विषय के परीक्षार्थियों में तरह तरह की बातें सामने आ रही है। माध्यमिक शिक्षा मंडल की 16 मार्च को हुई हायर सेकंडरी की मुख्य परीक्षा के रसायन शास्त्र विषय कोड -202 सेट A के प्रश्न क्रमांक 6 में हिंदी व अंग्रेजी के अनुवाद में अर्थों की भिन्न्ता होने से छात्रों को सही उत्तर की जाँच को लेकर परेशानी हो रही है साथ ही उनका यह भी कहना है कि इन परिस्थितियों में सभी परीक्षार्थियों को बोनस अंक देना चाहिये। परीक्षाथियों का कहना है कि हिंदी मीडियम के प्रश्नपत्र में मोललता ज्ञात कीजिये पूछा गया था और वही अंग्रेजी मीडियम में मे calculate molarity ज्ञात कीजिये पूछा कहा गया था जबकि दोनों का अर्थ भिन्न भिन्न निकलता है। इस कारण हिंदी और अंग्रेजी मीडियम के परीक्षार्थियों को प्रश्न का हल करने में भ्रम की स्थिति निर्मित हुई और उन्हें मानसिक रूप से परेशान भी होना पड़ा था। परीक्षार्थियों के कहना है कि उत्तर पुस्तिका की जाँच होना शुरू होने वाला है फिर भी इस प्रश्न को लेकर माध्यमिक शिक्षा मंडल की ओर से किसी भी प्रकार की परीक्षार्थियों को अंको को लेकर राहत देने की कोई भी कार्यवाही नही की गई है और यदि की भी गई होगी तो उससे परीक्षार्थी पूरी तरह से अनभिज्ञ है जिसके कारण सभी परीक्षार्थियों के मन में संशय बना हुआ है खासकर उन छात्र छात्राओं की जिन्हें टॉप टेन में जगह मिलने की उम्मीद है क्योंकि उनके लिये यह एक महत्वपूर्ण बात है। इस संदर्भ में कोरबा जिला शिक्षा अधिकारी सतीश कुमार पाण्डेय से inn24news ने जानकारी चाहा तो उन्होंने बताया कि इस मामले की जानकारी माध्यमिक शिक्षा मण्डल को पूर्व में हो चुकी है मगर अभी तक उस पर क्या निर्णय लिया गया है उसके बारे में हमे जानकारी नही मिली है और उन्होंने यह भी बताया कि जो भी निर्णय होगा वह माध्यमिक शिक्षा मण्डल द्वारा ली जायेगी।अब देखना यह होगा कि इस प्रश्न की त्रुटि को लेकर माध्यमिक शिक्षा मण्डल क्या निर्णय लेती है और परीक्षार्थियों को अंको को लेकर किस तरह से राहत देती है।

ब्यूरो रिपोर्ट INN24 News

Show More

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
Close