National

पालघर: साधुओं की निर्मम हत्या, संत समिति का गृह मंत्री को पत्र- राज्य सरकार पर भरोसा नहीं, हो CBI जांच..

INN24:महाराष्ट्र के पालघर में दो संतों की निर्मम हत्या पर विवाद गहराता जा रहा है। जूना अखाड़े के दो संन्यासियों की हत्या पर अखिल भारतीय संत समिति ने केंद्रीय गृह मंत्री को पत्र लिखा है। संत समिति ने जूना अखाड़े के साधुओं की हत्या के मामले की सीबीआई जांच कर दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की है। अखिल भारतीय संत समिति ने हत्या के पीछे बड़ी साजिश की आशंका जताई है।

अखिल भारतीय संत समिति की ओर से यह पत्र महामंत्री स्वामी जितेंद्र नंद सरस्वती ने लिखा है। संत समिति ने घटना को नक्सलियों से जोड़ते हुए गृह मंत्री को लिखा है कि दो संतों और उनके ड्राइवर की निर्मम हत्या महाराष्ट्र के अंदर कानून-व्यवस्था पर सवाल खड़े करता है। अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद पहले ही आंदोलन की चेतावनी दे चुका है। अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरी ने घटना को लेकर सरकार को चेतावनी दी कि अगर हत्यारों पर कार्रवाई नहीं हुई तो महाराष्ट्र सरकार के खिलाफ आंदोलन होगा।

अखिल भारतीय संत समिति ने कहा कि वे जूना अखाड़े के साथ खड़े हैं। महाराष्ट्र सरकार ने कार्रवाई नहीं की तो अखिल भारतीय संत समिति देशभर में आंदोलन खड़ा करेगी। उन्होंने लिखा कि इस पूरे प्रकरण में महाराष्ट्र के मंत्री अनिल देशमुख की भूमिका संदिग्ध है, इसलिए राज्य सरकार पर विश्वास नहीं कर सकते। उनका घटना को एक ही समुदाय का मामला बताते हुए ट्वीट करना एकपक्षीय है, इसलिए मामले की सीबीआई जांच जरूरी है।

महाराष्ट्र के पालघर के गड़चिनचले गांव में दो साधुओं और उनके ड्राइवर की पीट-पीटकर निर्मम हत्‍या कर दी गई। यह पूरी घटना वहां मौजूद कुछ पुलिसकर्मियों के सामने हुई। आरोपियों ने साधुओं के साथ एक ड्राइवर पर भी हमला किया। हमले के बाद साधुओं को अस्पताल ले जाया गया जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया।

Show More

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!