National

Coronavirus in Bihar: कोरोना के 1 मामले ने बढ़ाई प्रशासन की मुश्किलें, आखिर कैसे हुई ये महिला संक्रमित?

INN24:बिहार में अब तक कोरोनावायरस के 86 पॉजिटिव मरीज मिले हैं, जिनमें 42 की रिपोर्ट नेगेटिव आने के बाद फिलहाल सभी अपने घर पर क्वारंटाइन में हैं. राजधानी पटना में शनिवार को एक ऐसी महिला मरीज का पता चला है, जिसकी न तो ट्रैवल हिस्ट्री है और न ही किसी संक्रमित व्यक्ति से संपर्क का कोई रिकॉर्ड. स्वास्थ्य विभाग से लेकर जिला प्रशासन तक इस महिला मरीज को लेकर परेशान है. अभी तक बिहार में अधिकांश पॉजिटिव मामलों का मुख्य स्रोत या तो संक्रमितों का विदेश से लौटकर आना है या किसी न किसी संक्रमित व्यक्ति के साथ उनका पिछले एक महीने के दौरान संपर्क में आना है. लेकिन इस महिला मरीज के बारे में बताया जा रहा है कि उनके पति एटीएम में पैसे डालने वाले वाहन के चालक हैं.

दंपति जहां पटना के खाजपुरा में रहते हैं, वहां अधिकांश सब्जी या रिक्शा चलाने वाले लोग रहते हैं. हालांकि इस पॉजिटिव महिला की दोबारा जांच के लिए सैंपल लिया गया है, लेकिन पटना के जिलाधिकारी कुमार रवि ने कहा है कि न तो इस महिला की कहीं यात्रा और न किसी ऐसे व्यक्ति से संपर्क का इतिहास मिला हैं, जिसे पॉजिटिव पाया गया हो. फिलहाल उनके घर को सील कर दिया गया है और पूरे इलाके को सैनिटाइज किया जा रहा है.

इससे पूर्व भी वैशाली के एक युवक जिसकी मौत तीन दिन पहले हुई थी, उसकी भी कोई ट्रैवल हिस्ट्री नहीं मिली थी और न ही वह किसी संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आया था. हालांकि उसे ब्रेन ट्यूमर की बीमारी थी, जिसके सिलसिले में उसने कई अलग-अलग नर्सिंग होम में इलाज कराया था. इस संबंध में एक जांच जिला प्रशासन के द्वारा शुरू की गई है कि आखिर उसकी कौन-कौन सी जांच शुरू हुई थी और किस-किस बीमारी का पता लगा है.

Show More

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!