Chhattisgarh

राजनांदगांव : छुईखदान नगर पंचायत अध्यक्ष के पति से नाराज पार्षदों ने खोला मोर्चा.. कार्यवाही की मांग को लेकर की शिकायत.

छत्तीसगढ़/राजनांदगाँव : नगरीय निकाय चुनाव को चार-पांच महीने भी पूरे नहीं हुए हैं और अभी से छुईखदान नगर पंचायत में नगर पंचायत अध्यक्ष तथा पार्षदों के बीच में खींचतान शुरू हो गई है। काफी दिनों से चल रही यह खींचतान अब शिकायत तक चुकी है। छुईखदान नगर पंचायत के पार्षदों ने महिला अध्यक्ष दीपाली जैन के पति आशीष जैन के खिलाफ शिकायत की है कि वो नगर पंचायत के हर कार्य में हस्तक्षेप करते हैं इसके अलावा अध्यक्ष के पति बैठकों में भी शामिल होने तथा किसी भी प्रकार के फैसले लेने के मामले में भी हस्तक्षेप करते हैं जिससे पार्षदों में काफी नाराजगी है। यह सिलसिला काफी दिनों से चला आ रहा था किन्तु अब यह मामला आगे बढ़ गया। छुईखदान नगर पंचायत में भाजपा के 9 तथा कांग्रेस के 6 पार्षद हैं जिसके आधार पर भाजपा की ओर से वार्ड नंबर 15 से जीतकर पार्षद बनी दीपाली जैन को अध्यक्ष बनाया गया। इसी प्रकार वार्ड नंबर 5 से पार्षद बने उमाकांत महोबिया नगर पंचायत के उपाध्यक्ष हैं। बहुमत के बावजूद अपनी ही पार्टी के उपाध्यक्ष तथा अन्य पार्षदों ने अध्यक्ष के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है छुईखदान नगर पंचायत के उपाध्यक्ष उमाकांत महोबिया के साथ कुल 10 पार्षदों ने नगर पंचायत के सीएमओ से शिकायत की है उपाध्यक्ष तथा अन्य पार्षदों ने बताया कि नगर पंचायत अध्यक्ष के पति आशीष जैन हर नगर पंचायत के प्रत्येक कार्यों में हस्तक्षेप करते हैं जो नगरीय निकाय अधिनियम के विरुद्ध है जिसको लेकर उनके द्वारा शिकायत कर कार्यवाही की मांग की है।

पार्टी की छबि हो रही धूमिल

छुईखदान नगर पंचायत में सामने आये इस मामले से पार्टी की छबि धूमिल हो रही है जहाँ अध्यक्ष के खिलाफ अपनी ही पार्टी के पार्षद लामबंद हो गये हैं नगर पंचायत अध्यक्ष के पति के रवैये में सुधार नही होता तो आने वाले समय में भाजपा को इसका नुकसान भी उठाना पड़ सकता है।

संवाददाता : सन्नी यदु, राजनांदगाँव

Show More

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!