Entertainment

सरोजनी नगर के टेलर ने सिला गाउन, मोज़े काटकर बनाए ग्लव्ज़, ऐसे तैयार हुआ था सुष्मिता का मिस इंडिया का ड्रेस..

INN24:बॉलीवुड एक्ट्रेस सुष्मिता सेन उन एक्ट्रेसेस में शुमार हैं जिन्होंने अपने दम पर ये मुकाम हासिल किया है। सुष्मिता आज की महिलाओं के लिए किसी रोल मॉडल से कम नहीं हैं। आज सुष्मिता जिस मुकाम पर हैं वहां तक पहुचंने के लिए उन्होंने कड़ी मेहनत की है। सुष्मिता ने मिस इंडिया बनने के लिए बिना हार मानें और मुश्किल रास्तों और हालातों का मुकाबल कर उस जीत को हसिल किया है। सुष्मिता सेन का एक पुराना वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इस वीडियो में वह मिस इंडिया बनने के दौरान का एक वाक्या शेयर करती नजर आ रही हैंं। उनकी बात सुनकर यकीनन आप उनके फैन हो जाएंगे।

सुष्मिता सेन का जो वीडियो सोशल मीडिया पर चर्चा में बना हुआ है। इस वीडियो में वह अपने मिस इंइडिया के दौरान की बातें शेयर करती नजर आ रही है। उनका ये वीडियो एक्टर फ़ारुख़ शेख़ के फेमस शो ‘जीना इसी का नाम है’ का है। इस वीडियो में सुष्मिात सेन अपने माता-पिता के साथ पहुंची थीं। इस दौरान वह बताती हैं कि 1994 में जब वह मिस इंडिया बनी थीं, उनके पास उस वक्त पहनने के लिए कपड़े नहीं थे।

उन्होंने बताया, ‘हमारे पास इतने पैसे नहीं थे कि हम डिजाइनर कपड़े पहन के स्टेज पर जाएं चार कॉस्ट्यूम्स चाहिए थे। हम मिडिल क्लास लोग हैं और हमें हमारी सीमाएं पता थीं। तो मम्मी ने कहा -तो क्या हुआ, कपड़े देखने थोड़े ही ना आ रहे हैं लोग, तुम्हें देखने आ रहे हैं। चलो शॉपिंग पर। तो हम सरोजिनी मार्किट गए औऱ वहां से लंबा सा कपड़ा ले आए।’

इसके बाद सुष्मिता ने आगे कहा, ‘ वहीं हमारी गैराज में एक पेटिकोट सीलने वाला आदमी था। वहां जाकर मैंने बोला कि देखो भाई टीवी पर आने वाला है तो अच्छा बनाना, वह कपड़ा उन्हें थमा दिया गया। उस कपड़े से मेरा विनिंग गाउन तैयार किया गया। मम्मी ने बचे हुए कपड़े से रोज बनाया और मेरे कंधे पर लगाया। साथ ही काला सॉक्स ब्रैंड न्यू खरीदा और उसे काटा औऱ मेरी बाजू में पहनाया जिसे पहन कर मै मिस इंडिया बनी। मेरे लिए वह इतनी बड़ी बात है कि देखिए इंसान की सोच सही होनी चाहिए। इसके लिए पैसे की जरूरत नहीं होती है।’

Show More

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
Close