Uncategorized

बिलाईगढ़ : मास्क चेकिंग के दौरान तहसीलदार और बीएमओ के बीच जमकर कहा सुनी..बीएमओ ने एसडीएम को की गई शिकायत.

छत्तीसगढ़/बिलाईगढ़- जहाँ छत्तीसगढ़ सरकार कोरोना वाईरस को लेकर गंभीर हैं ऐसे में शासन प्रशासन एहितयात बरतने लाखो जतन कर रहे है और हर एक व्यक्तियों के प्रत्येक गतिविधियों पर नजर रखें हए है तांकि किसी भी व्यक्ति को कोरोना वाईरस की संक्रमण न लगे, ऐसे में दो अधिकारी आपस में भीड़ जाए तो जनता का क्या होगा ।

दरअसल बलौदाबाजार जिला के ब्लॉक मुख्यालय बिलाईगढ़ में मास्क चेकिंग के दौरान तहसीलदार और बी एम ओ के बीच जमकर कहा सुनी हो गया बताया जा रहा सभी को मुँह में मास्क , रुमाल,या गमछा बाँधकर चलने शासन प्रशासन द्वारा कहा जा रहा है जिसके मद्देनजर बीते 10 अप्रैल की शाम तहसीलदार द्वारा रूटीन जाँच किया जा रहा था .उसी बीच स्वास्थ्य विभाग के बी एम ओ और तहसीलदार के बीच आपस मे मुँह जुबानी जंग झिड़ गया दोनों अधिकारी एक दूसरे को बड़ा बताते हुए अपने – अपने नसीहत दे डाला। जिसके बाद बी एम ओ ने बिलाईगढ़ एस डी एम को अपने स्टॉप के साथ गाली गलौच करने का आरोप लगाते हुए एक शिकायत किया है।

देखा जा रहा कि वहां भी एस डी एम की मौजूदगी में बिना मास्क लगाए बी एम ओ अपने स्टॉप के साथ मौजूद है और बात कर रहे है ।जिससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि बी एम ओ कोरोना वाईरस को लेकर कितनी गंभीर है।आप वाईरल वीडियो में देख सकते है वहाँ भी दोनों पक्षों का आरोप प्रत्यारोप का शिलशिला चल रहा और एस डी एम के सामने ही स्वास्थ्य विभाग के बी एम ओ द्वारा एक तहसीलदार/मजिस्ट्रेट को कहा जा रहा कि.. बी एम ओ आपसे बड़ा अधिकारी होता है आपको मानना पड़ेगा…सबसे बड़ी बात ए है कि इन बातों को लेकर एस डी एम भी चुपचाप सुनता रहा किसी को कुछ भी जवाब नही दिया गया जिससे कई बड़े सवाल खड़े हो रहे हैं ।जिसका वीडियो वाईरल हो गया।

वहीं दूसरी ओर इस मामलें में तहसीलदार से बात करने पर बताया कि स्वास्थ्य विभाग के किसी भी स्टॉप के साथ किसी प्रकार की कोई गाली गलौच या दुर्व्यवहार नहीं किया गया है .जिस तरीके से मुझ पर आरोप लगाया जा रहा है वो बेबुनियाद है वहाँ उपस्थित टीम के लोगों को पूछताछ कर जाँच होनी चाहिए।

वाईरल वीडियो में कुछ दिन पहले धनसिर के किसी क्लिनिक में किए गए छापेमारी का भी जिक्र हुआ और उसकी भी जाँच करने की बात एस डी एम के पास की जा रही है ,कहीं ऐसा तो नहीं कि धनसिर में हुए छापेमारी में कुछ कार्यवाही करने लायक मामला आया होगा जिसमें स्वास्थ्य विभाग पर्दा डालने का प्रयास किया हो। इन तमाम मामलों को देखते हुए सभी मुद्दों पर जाँच किया जाना चाहिए तांकि सच्चाई खुलकर सामने आए और पता चलें कि मामला गाली गलौच दुर्व्यवहार को लेकर है या कुछ और।

रिपोर्ट – विजय सोनी, बिलाईगढ़

Show More

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!