ChhattisgarhCrime

कटघोरा: बाजार मोहल्ला का युवक बाइक में भर रहा था फर्राटा.. नही लगाया था मास्क.. हुआ एफआईआर.. इसके ही घर से 200 मीटर की दूरी पर मिले है आठ कोरोना के मरीज.

छत्तीसगढ़ में कोरोना मरीजों के लिए हॉटस्पॉट के तौर पर उभरा कटघोरा नगर अब देशभर में सुर्खियों में है. यहां 3 दिनों के भीतर ही कोरोना संक्रमित 8 मरीजों की पुष्टि हुई है जबकि इससे पहले भी एक तबलीगी जमात का नाबालिग भी कोरोना का शिकार हुआ था लिहाजा पुलिस की कोशिश है कि अब शहर को पूरी तरह से लॉक डाउन कर लोगों को घरों में रहने के लिए प्रेरित किया जाए. जाहिर सी बात है जिस छोटे से शहर में इतनी संख्या में मरीज पाया जाए वहां की जनता भी अब जागरूक रहकर अपने घरों में ही रहे और कोरोना से बचाव के उपाय पर अमल करें. लेकिन ऐसा होता नजर नहीं आ रहा है. यकीन करना मुश्किल है कि जिस जगह से इन 8 कोरोना मरीजों को रायपुर के एम्स अस्पताल भेजा गया है उससे महज 200 मीटर दूरी पर रहने वाले युवक भी अपनी और अपने परिवार की जान की परवाह न करते हुए सड़कों पर फर्राटे भर रहे हैं. जबकि आज ही प्रशासन ने सख्ती दिखाते हुए उन लोगों के खिलाफ कार्रवाई का आदेश दिया है जो बिना मास्क और सुरक्षा उपायों के घूम रहे हैं.

दरअसल आज जब पुलिस अपनी पेट्रोलिंग में थी तभी उन्हें कटघोरा के वार्ड क्रमांक 4 बाजार मोहल्ला जयस्तंभ चौक के पास रहने वाला योगेश अग्रवाल पिता धनसीराम अग्रवाल नजर आया. वह बाइक पर था और उसने चेहरे पर मास्क भी नहीं लगाया था. पुलिस ने जब उससे सड़क पर घूमने की वजह पूछा तो वह गोलमाल जवाब देने लगा. वह यह भी नहीं बता पाया कि उसने अपना चेहरा क्यों नहीं ढंका है जिसके बाद उसके खिलाफ धारा 188 के तहत मामला कायम कर लिया गया. इसी तरह से पुलिस ने सभी लोगों पर कार्रवाई की बात कही है जो अपने साथ दूसरों के जीवन को खतरे में डालने का प्रयास कर रहे हैं.

Show More

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!