Chhattisgarh

कटघोरा: पुरानी बस्ती से ही मिला दूसरा कोरोना का मरीज.. देर रात 2:00 बजे शिफ्ट किया गया रायपुर AIIMS.. पुराने मरीज से ही संक्रमित होने की आशंका.

पिछले हफ्ते शनिवार को कोरबा जिले के कटघोरा में तबलीगी जमात से जुड़े एक नाबालिक का कोरोना टेस्ट रिपोर्ट पॉजिटिव पाया गया था. इसके तुरंत बाद पीड़ित को राजधानी के एम्स में दाखिल किया गया था. इसके साथ ही दो दर्जन से ज्यादा और भी लोगो को एहतियातन क्वारंटाइन कर दिया गया था. नाबालिक का इलाज अस्पताल में अभी में चल ही रहा था कि बुधवार की देर रात 11:30 बजे कटघोरा के पुरानी बस्ती से ही एक और शख्स का रिपोर्ट पॉजिटिव पाया गया. बताया जा रहा है कि संक्रमित शख्स की उम्र 50 वर्ष के करीब है. इस नए मामले की पुष्टि के बाद पुलिस-और प्रशासन फिर हरकत में आया और फौरन ही मरीज को रायपुर रवाना करने के लिए इन्तज़ाम शुरू किए गए. रात 11:58 में खुद भी सूबे के स्वास्थ्य मंत्री ने माइक्रोब्लॉगिंग साइट ट्विटर पर इसकी नए मरीज की जानकारी दी थी.

तहसीलदार, बीएमओ व थाना प्रभारी करीब एक बजे एम्बुलेंस दस्ते के साथ पहुंचे. उनके साथ ही एसडीएम सूर्यकिरण तिवारी व एसडीओपी पंकज पटेल व नपा सीएमओ जीबी सिंह भी रवाना हुये. घंटे भर बाद संजीवनी 108 से पीड़ित को अतिरिक्त पुलिस बल के साथ रायपुर ले जाया गया. इस तरह जिले के एक ही शहर से दो-दो मरीजो के सामने आने से जिला प्रशासन भी सतर्क हो गया है. अब डॉक्टर्स की टीम उन सभी लोगो को क्वारंटाइन की तैयारी में जुटी है जो नए मरीज के संपर्क में रहे होंगे.

इस नए मामले से ठीक पहले यानी बुधवार को पुलिस और सशस्र बलों की टीम ने फ्लैग मार्च किया था. इस दौरान एसपी अभिषेक मीणा, एएसपी यू उदयकिरण, डीएसपी श्री करियारे व एसडीओपी के साथ जिले का ज्यादातर पुलिस अमला शहर में डटा हुआ था. जबकि एक दिन पहले भी पुलिस के शीर्ष अधिकारी मार्च कर चुके थे. सूत्रों की माने तो इस बात की पूरी आशंका थी कि कटघोरा से जुटाए गए सैम्पल में से कुछेक का रिपोर्ट पॉजिटिव हो सकता है. यही वजह है कि जिला प्रशासन शहर में लॉकडाउन को लेकर और भी ज्यादा सतर्क हो चुका था. शहर के तीनों ही सीमाओं को सील कर दिया गया था. आला अफसर लगातार कटघोरा के दौरे पर थे. वे पल-पल के हालात का जायजा ले रहे थे.

Show More

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
Close