Chhattisgarh

कोरबा : मुख्यमंत्री राहत कोष में सर्वराजी पेटी ठेकेदार समिति ने 21000 तो वही हायर सेकेएड्री स्कूल की शिक्षिका ने 10000 रुपए का दिया योगदान

प्रदेश महिला कांग्रेस की वरिष्ठ नेत्री व सी.एस.ई.बी. की सेवानिवृत्त कर्मचारी कुसुम द्विवेदी ने दिया 5100 का योगदान

छत्तीसगढ़/कोरबा : कोरोना संक्रमण से बचाव एवं रोकथाम के लिए प्रदेश सरकार द्वारा किए जा रहे कारगर उपायों के लिए पूरे देश में मुख्य मंत्री भूपेश बघेल की सराहना हो रही है। मुख्य मंत्री के आह्वान पर अनेक संस्थाओं और व्यक्तियों द्वारा मुख्य मंत्री राहत कोष में सहायता के लिए पूरी उदारता से योगदान भी किया जा रहा है।

इसी कड़ी में अब आमजन भी आगे बढ़कर सहयोग का हाथ बढ़ाने लगे हैं। कोरबा में कार्यरत सर्वराजी पेटी ठेकेदार समिति के सदस्यों की ओर से समिति के अध्यक्ष अशरफ अली, सचिव मोती लाल सूर्यवंशी एवं कोषाध्यक्ष संतोष गुप्ता ने राजस्व एवं आपदा प्रबंधन मंत्री जयसिंह अग्रवाल से कोरबा स्थित उनके निवास पर मुलाकात कर समिति की ओर से एकत्र राशि रूपये 21000.00 (इक्कीस हजार रूपये) का चेक मुख्य मंत्री राहत कोष के लिए प्रदान किया। इस अवसर पर समिति के अध्यक्ष अशरफ अली, सचिव मोती लाल सूर्यवंशी एवं कोषाध्यक्ष संतोष गुप्ता ने मिलकर राजस्व मंत्री से मुलाकात कर समिति की भावनाओं से अवगत कराया। अशरफ अली ने कहा कि प्रदेश के मुखिया भूपेश बघेल वर्तमान संकट के समय राज्य की समूची व्यवस्था का कुशल प्रबंधन कर रहे हैं। इस आपदा की घड़ी में समूचा प्रदेश उनके साथ है। अपने उद्गार व्यक्त करते हुए सचिव मोती लाल सूर्यवंशी एवं कोषाध्यक्ष संतोष गुप्ता ने राजस्व मंत्री को बताया कि कोरबा में कार्यरत पेटी ठेकेदारों की समिति द्वारा उम्मीद जताई है कि उनका यह योगदान प्रदेश सरकार को कोरोना संक्रमण से रोकथाम संबंधी व्यवस्था बनाने में मददगार साबित होगा।

सीतामणी स्थित हायर सेकेण्ड्री स्कूल में शिक्षिका अर्चना राजवाडें ने अपने पति चुन्नी लाल राजवाड़े के साथ राजस्व मंत्री से अग्रसेन मार्ग स्थित निवास पर मुलाकात कर मुख्य मंत्री राहत कोष में 10000.00 दस हजार रूपये का चेक प्रदान किया। इसी प्रकार से प्रदेश महिला कांगेस की वरिष्ठ नेत्री व सी.एस.ई.बी. की सेवानिवृत्त कर्मचारी कुसुम द्विवेदी ने व्यक्तिगत तौर पर 5100.00 (पांच हजार एक सौ) रूपये का चेक राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल को सौंपते हुए बताया कि यह धनराशि उन्हें प्राप्त हो रही पेंशन की राशि से प्रदान की जा रही है। यह इस बात का द्योतक है कि प्रदेश सरकार द्वारा आम नागरिकों के लिए वर्तमान संकट से निपटने के लिए किए जा रहे प्रयासों की सफलता के लिए जनभावनाएं जुड़ी हैं। उपर्युक्त दोनों ही योगदान के लिए प्रदेश सरकार की ओर से धन्यवाद ज्ञापित करते हुए राजस्व मंत्री ने आशा व्यक्त किया है कि मुख्य मंत्री राहत कोष में योगदान करने के लिए लोगों में जागरूकता का संचार हो रहा है और वे आगे आ रहे हैं।

Show More

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!