National

हनुमान जयंती उत्सव भी टला.. हनुमान जयंती के अवसर पर श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट का लोगो जारी.. कहा- प्रभु राम व हनुमानजी हमारी सदैव रक्षा करेंगे.

इसमें प्रभु राम की सौम्य छवि है.

उत्तरप्रदेश/अयोध्या: हनुमान जयंती के मौके पर बुधवार को श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने अपना लोगो जारी किया. इस लोगो में धनुषधारी प्रभु राम के चित्र को केंद्र में रखा गया है. साथ ही उनके परमभक्त बजरंगी बली को भी स्थान मिला है. ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने कहा- लोगो के केंद्र में धनुषधारी प्रभु राम का चित्र है. जबकि, साइड में हनुमानजी हैं. प्रभु राम व हनुमान जी हमारी सदैव रक्षा करेंगे. श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट का लोगो (अमूर्त चित्र) भी विशेष है. इसमें प्रभु राम की सौम्य छवि है. जिनके ऊपर वलयाकार ऊपरी परिधि पर में ट्रस्ट का नाम लिखा हुआ है. नाम के पूर्व व नाम के समापन पर हनुमानजी का चित्र है. लोगो में सूर्य की तेजवान किरणें भी हैं. आधार पर रामो विग्रहवान धर्म: अंकित है. यानी राम धर्म का साकार रूप हैं.

विश्व हिंदू परिषद ने बस्ती जिले के मखौड़ा से शुरू होने वाली 84 कोसी परिक्रमा को स्थगित कर दिया है। परिषद ने बुधवार को अपने घरों में प्रभु राम के विग्रह अथवा चित्र की परिक्रमा कर इसे सांकेतिक तौर पर पूरी करने को कहा है. मीडिया प्रभारी शरद शर्मा ने बताया कि 84 कोसी परिक्रमा क्षेत्र में पड़ने वाले 24 धार्मिक विश्राम स्थलों के प्रभारियों से कहा गया है कि वे अपने इलाके के श्रद्धालुगण से सांकेतिक तौर पर इसे अपने घरों में पूरा करने के लिए अपील जारी करें. आज के दिन घरों में ही हनुमान चालीसा व सुंदरकांड का पाठ करके पूरे इलाके में ईश्वर से प्रार्थना करें की कोरोना जैसी महामारी से देश को जल्दी मुक्ति मिले.

84 कोसी परिक्रमा मखोड़ा से शुरू होनी थी, जो अंबेडकरनगर, सुल्तानपुर, बाराबंकी आदि जिलों से होकर अयोध्या में समाप्त होती है. कोरोनावायरस संकट के चलते विश्व हिंदू परिषद ने सभी कार्यक्रमों को स्थगित कर दिया है. विश्व हिन्दू परिषद के अंतरराष्ट्रीय उपाध्यक्ष चंपत राय ने कहा- कोरोना संकट के कारण इस साल परिक्रमा स्थगित कर दी गई है जो अगले साल पूरी भव्यता के साथ निकली जाएगी. संतों ने कहा कि कोरोना संकट के कारण हनुमान जयंती का उत्सव भी स्थगित कर दिया गया है पर मंदिरों में हनुमान जी की पूजा अर्चना आरती राग भोग के कार्यक्रम चलेंगे.

Tags
Show More

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
Close