Chhattisgarh

कुसमुंडा : ‘मेरी पहचान बताये बिना जरूरतमन्दों को ये समान पहुँचा देंवे’ – एक सज्जन व्यक्ति.

छत्तीसगढ़/कोरबा : समाज मे कुछ ऐसे लोग भी है जो अपनी पहचान जाहिर किए बिना आपदा की घड़ी में समाज सेवा करना चाहते है, वरना आप तो जानते ही है कि 2 केला या 2 पैकेट बिस्किट लेकर 20 तस्वीर खिंचाने वालो की तादाद कितनी है।

कुसमुण्डा अंतर्गत विकास नगर के एक सज्जन व्यक्ति द्वारा हमारी संस्था थीम ग्रीन को कॉल करके इस कोरोना महामारी की वजह से लॉक डाउन में समाज के लिए लड़ रहे पुलिस, पत्रकार व कर्मचारियो के साथ साथ असहाय व गरीब वर्ग के लिए 100 नग टू लेयर मास्क,100 बोतल मिनलर वाटर, बिस्किट व विटामिन सी की दवाइयों का सहयोग दिया गया। जिसे हमारे युवा साथियों द्वारा मिलकर कुसमुण्डा थाने के जवानों, पत्रकारों, पॉवर सेक्टर में कोयला परिवहन कर रहे ट्रक ड्राइवरो व गरीब लोगों में बांटा गया।

इस प्रकार से मदद करने वाले हमारे सज्जन व्यक्ति का हमने नाम सार्वजनिक करने की बात कही तो उन्होंने बड़ी ही शालीनता से ऐसा नही करने का आग्रह किया, उनका कहना था कि इस बुरे वक्त में जरूरतमंद की मदद हो जाये वो काफी है, मैं ये मदद नाम के लिए नही कर रहा, कृप्या कर मेरा नाम कहीं जाहिर न करें।

आज देश में फैली इस महामारी से लड़ने अनेको समाजिक संगठन दिन रात काम कर रहे है, नगद दान से लेकर खाने पीने की चीजो तक कि सहायता वो कर रहे हैं। आप सभी से भी अपील है कि इस आपदा की घड़ी में आपलोगो से जो भी बन पड़े निस्वार्थ भाव से मदद करें, ज्यादा दूर नहीं तो अपने आसपास ही करें, पानी से लेकर खाने तक यथासंभव मदद करें, कल जब ये कोरोना रूपी अंधकार छट कर नया सवेरा होगा, तो आपकी यही छोटी छोटी मदद खुशियो की रोशनी बिखेरेगी।

संवाददाता : ओम गभेल

Show More

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!