Chhattisgarh

सेनेटाइजर और मास्क के अवैध भण्डारण और कालाबाजारी रोकने होगी छापामार कार्रवाई

कोरोना वायरस के फैलाव को रोकने के लिये और इससे बचाव के तरीकों पर आज की साप्ताहिक समीक्षा बैठक सम्पन्न हुई। कलेक्टर श्रीमती किरण कौषल ने बैठक में अधिकारियों को अपने कार्यालयों में भी साफ-सफाई रखने और अपने महाततों को कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के पूरे उपाय करने के निर्देष अधिकारियों को दिये। श्रीमती कौषल ने जिले में कोरोना वायरस को लेकर सेनेटाइजर, हैण्डवाष और मास्कों के अवैध भण्डारण तथा कालाबाजारी पर कड़ी कार्रवाई करने के निर्देष अधिकारियो को दिये। श्रीमती कौषल ने हैण्डवाष, सेनेटाइजर और मास्कों का व्यापार करने वाले मेडिकल स्टोरों, स्टाॅकिस्टों और डिस्ट्रब्यूटरों के यहाॅं औचक निरीक्षण करने के निर्देष अधिकारियों को दिये। इसके लिये उन्होंने राजस्व विभाग और स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों-कर्मचारियों का दल गठन कर कार्रवाई सुनिष्चित करने को कहा। बैठक में श्रीमती कौषल ने यह भी निर्देषित किया कि अवैध रूप से सेनेटाइजर और मास्क के भण्डारण, निर्धारित दर से अधिक दाम पर उन्हें बेचने की सूचना या षिकायत मिलने पर भी तत्परता से कार्रवाई की जाये। कलेक्टर ने सभी मेडिकल दुकानों से सेनेटाइजर और मास्क के भण्डारण तथा बिक्री की दैनिक जानकारी भी मंगाने के निर्देष मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को दिये। बैठक में अतिरिक्त जिला दण्डाधिकारी श्री संजय अग्रवाल, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री एस. जयवर्धन, नगर निगम आयुक्त श्री राहुल देव, वनमण्डलाधिकारी कोरबा श्री एस. गुरूनाथन, अपर कलेक्टर श्रीमती प्रियंका महोबिया सहित सभी विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी भी मौजूद रहे।
बाहर से आने वाले कोरोना के संदिग्ध संक्रमितों की पहचान के लिये रेल्वे स्टेषन और बस स्टैण्ड में बनेगा हेल्पडेस्क
कोरबा में अन्य जिलों से या बाहर से आने वाले लोगों में सर्दी-खांसी-बुखार के साथ कोरोना वायरस से संदिग्ध संक्रमितों की पहचान कर उनका जरूरी सावधानियाॅं बरतते हुये उपयुक्त ईलाज कराने रेल्वे स्टेषन और बस स्टैण्ड में अस्थायी हेल्पडेस्क बनाने के निर्देष भी कलेक्टर श्रीमती कौषल ने समय-सीमा की साप्ताहिक बैठक मंे दिये। इन हेल्पडेस्कों के माध्यम से बाहर से आने वाले लोगों में सर्दी-खांसी-बुखार या कोरोेना से संक्रमित संदिग्ध व्यक्ति की उपयुक्त पहचान कर उन्हें आइसोलेट करने, उनकी जरूरी डाॅक्टरी जाॅंच कर उपचार करने का काम उनके आगमन स्थल से ही शुरू हो जायेगा। इससे बाहर से आने वाले लोगों के माध्यम से कोरबा में कोरोना वायरस के फैलाव को रोका जा सकेगा। साथ ही समय पर उन्हें ईलाज की सुविधा भी मिल सकेगी। कलेक्टर ने इन दोनों जगहों पर प्रषिक्षित मेडिकल स्टाॅफ के साथ सुरक्षा कर्मियों और पैरा-मेडिकल टीम को भी तैनात करने के निर्देष अधिकारियों को दिये।
शहर से लेकर गांवों तक कोरोना से बचाव संबंधी प्रचार-प्रसार के भी दिये निर्देष
कलेक्टर श्रीमती कौषल ने समय-सीमा की साप्ताहिक बैठक में कोरोना वायरस के बचाव के तरीकों को आम लोगों को बताने के लिये व्यापक प्रचार-प्रसार करने के निर्देष अधिकारियों को दिये। उन्होंने इस संबंध में बड़े-बड़े फ्लैक्स बोर्ड, होर्डिंग्स आदि तैयार करवाकर सभी नगरीय क्षेत्रों में प्रदर्षित करने के निर्देष दिये। अस्पतालों, बस-स्टैण्ड, रेल्वे-स्टेषन जैसे सार्वजनिक उपयोग की जगहों पर कोरोना वायरस से संबंधित जानकारी और उससे बचाव के लिये की जाने वाली सावधानियों को भी प्रदर्षित करने के निर्देष कलेक्टर ने दिये हैं। ग्रामीण क्षेत्रों में आंगनबाड़ी केन्द्रों से लेकर ग्राम पंचायत भवन और अन्य शासकीय भवनों में जानकारीयुक्त फ्लैक्स आदि लगाने तथा गांव-गांव में इस संबंध में दीवार-लेखन कराने के निर्देष भी कलेक्टर ने आज की बैठक में दिये।
Show More

Related Articles

Back to top button